जीता सिंह नेगी/  रिकांगपिओ

  राष्ट्रीय कृषि एवं ग्रामीण विकास बैंक नावार्ड के 38 वे स्थापना दिवस पर ग्राम पंचायत ज्ञाबुंग में कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में ज्ञाबुंग व रुशकलंग गांव से करीब 138 ग्रामीणों ने अपनी उपस्थिति दर्ज की। कार्यक्रम में कृषि विज्ञान केंद्र के विशेषज्ञ बीआर नेगी ने बतौर मुख्य अतिथि शिरकत की। उन्होंने ग्रामीणों को उन्नत किस्म के तरीके से खेती करने की सलाह दी व केश कार्प के प्रति रुझान बढ़ाने को कहा। इस अवसर पर जिला विकास प्रबंधक नावार्ड विजय नेगी ने नावार्ड के स्थापना पर सभी को बधाई दी।

नावार्ड के तहत हो रहे कार्यों से अवगत कराते हुए कहा कि स्वयं सहायता समूह महिलाओं को आत्म निर्भर बनाने के किए सबसे बढ़िया माध्यम है। किसानों के लिए भी कई स्कीमें चलाई जा रही हैं। जिस के माध्यम से किसान अपनी आय के साधन को बढ़ा सकते है। नेगी ने कहा कि नावार्ड स्पार्क संस्था के माध्यम से रोपा व ज्ञाबुंग में जनजातीय समुदाय विकास कार्यक्रम के तहत 200 परिवारों का चयन किया है।

जिन के साथ 6 वर्षों तक बागवानी को बढ़ाने के कार्य किया जाएगा। इस अवसर पर एलडीएम किन्नौर दौलत राम मीना ने ग्रामीणों को ऋण व बैंकिंग प्रणाली से अवगत कराया। स्पार्क संस्था के प्रदीप आज़ाद व उपप्राधन ज्ञाबुंग ज्ञान सिंह नेगी ने नावार्ड के स्थापना दिवस पर सभी को बधाई दी। उप प्रधान ज्ञान सिंह नेगी ने नावार्ड प्रबंधक से ज्ञाबुंग पंचायत क्षेत्र में वाटरशेड व स्प्रिंगशेड कार्यक्रम आयोजन करने की मांग की। इस मौके पर प्रधान चंद्र कांता नेगी, ग्राम विकास कमेटी सुशीला कुमारी, नरेंद्र नेगी, चंद्र सिंह नेगी, होज़र, दलीप, सोनम सहित ज्ञाबुंग व रुशकलंग के सैंकड़ों ग्रामीण उपस्थित थे।  

Share.

About Author

Leave A Reply