एमबीएम न्यूज़ /ऊना  
उपमंडल के तहत डरोह गांव में जंगलों के साथ लगती निजी भूमि पर बिना वन विभाग को विश्वास में लिए आग लगाने का प्रयास किया गया। इसकी सूचना मिलते ही वन विभाग की टीम ने मौके पर पहुंच आग को काबू किया, वहीं आग लगाने वाले को भी धर दबोचा। विभाग की टीम मौके पर पहुंच हालात को देखते हुए नियमों के तहत कार्रवाई अमल में लाते हुए आग लगाने के आरोपी से 5000 रुपये बतौर जुर्माना बसूले किए। 

Demo pic

फायर सीजन के दौरान विभाग की इस तरह कार्रवाई से लोगों में हड़कंप मच गया है। विभाग ने पहले ही जंगलों की सुरक्षा को देखते हुए आमजन को सचेत किया था कि कोई भी विभाग की परमिशन के बिना प्राइवेट लैंड में आग नहीं लगा सकता। इसके पीछे की सोच यह थी कि लगी आग की चिंगारी हवा के माध्यम जंगलों तक पहुंच भीषण आगजनी का रूप ले लेती है।

विभाग की इस कार्रवाई वन प्रेमियों का भी साथ मिला है। अब घासनी को आग के हवाले  करने के मामले कम हुए हैं। वन मंडलाधिकारी यशुदीप सिंह ने घटना की पुष्टि करते हुए कहा कि जंगल सुरक्षित रखना विभाग के साथ साथ आम नागरिकों की भी जिम्मेवारी है।

Share.

About Author

Leave A Reply