एमबीएम न्यूज/शिमला
एक युवती को एटीएम कार्ड पर पिन लिखना भारी पड़ गया। जिसके बाद युवती को 98 हजार रूपए गंवाने पड़े। सुखद बात यह है कि पुलिस ने 2 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। हालांकि इससे पहले आरोपियों ने ठगे गए पैसे से चंडीगढ़ में जमकर मस्ती की। मामले का खुलासा तब हुआ जब युवती को उसके मोबाइल पर दनादन एटीएम से पैसे निकासी के मैसेज आने लगे। इससे पहले कि युवती संबंधित बैंक में जाकर अपने एटीएम को लॉक करवाती, बदमाश 98 हजार रूपये की निकासी कर चुके थे।

जिसके बाद युवती ने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई। शिकायत मिलते ही पुलिस ने कार्रवाई करते हुए 2 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। मामला राजधानी शिमला के बालूगंज थाना क्षेत्र का है। पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार पीडि़ता शिमला में एक निजी कंपनी में नौकरी करती है। कुछ दिन पहले उसका एटीएम खो गया। पीडि़ता को एटीएम गायब होने का एहसास नहीं हुआ। दोनों शातिरों ने 29 मई को सबसे पहले बालूगंज इलाके के एक एटीएम कक्ष से इस कार्ड का इस्तेमाल किया और यहां से 40 हजार रुपए निकाले। इसके बाद उन्होंने चंडीगढ़ घूमने का प्लान बनाया और वहां भी इसी एटीएम से इतनी ही रकम निकाली।

इसी रात को ये शिमला आए और रात के समय फिर बालूगंज इलाके के एटीएम में गए और वहां से हजारों रुपए निकाल दिए। पीडि़ता के मोबाइल पर जब निकासी के मैसेज आए तो उसने संबंधित बैंक और पुलिस में शिकायत की। पुलिस ने एटीएम कार्ड की डिटेल खंगालनी शुरू की और उन एटीएम कक्षों के फुटेज की पड़ताल की, जहां से आरोपियों ने निकासी की थी। फुटेज में आरोपियों के चेहरे दिखने के बाद पुलिस ने उन्हें पकडऩे के लिए जाल बिछाया और शनिवार रात दोनों को शिमला से गिरफ्तार कर लिया।

आरोपियों की पहचान 27 वर्षीय जितेंद्र और 23 वर्षीय रशपाल के रूप में हुई है। दोनों आरोपी शिमला के चायली और बालूगंज के रहने वाले हैं। डीएसपी हैडक्वार्टर प्रमोद शुक्ला ने बताया कि आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 379 के तहत मामला दर्ज किया गया है और रिमांड पर लेने के लिए उन्हें अब अदालत में पेश किया जाएगा।

Share.

About Author

Leave A Reply