नितेश सैनी/सुंदरनगर 
विधानसभा क्षेत्र सुंदरनगर की ग्राम पंचायत कलौहड़ के बीणा में रविवार को विधायक राकेश जम्वाल का नागरिक अभिनन्दन किया गया। समारोह में पहुंचने से पहले विधायक ने कलौहड़ स्कूल में बने स्टेट का उद्घाटन किया। इसके बाद राजकीय उच्च पाठशाला बीणा में ग्रामीणों द्वारा आयोजित कार्यक्रम में पहुंचने पर विधायक का भव्य स्वागत किया गया। इस मौके विधायक ने बीणा से सुंदरनगर के लिए बस सुविधा को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

        इस मौके पर जनसभा को संबोधित करते हुए विधायक ने कहा कि प्रदेश की बागडोर संभालते ही मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने प्रदेश को शिखर तरफ ले जाने का प्रयास शुरू कर दिया है। मुख्यमंत्री की मंशा स्पष्ट है कि प्रदेश का संपूर्ण विकास करना है। राकेश जम्वाल ने कहा कि बीणा क्षेत्र में कांग्रेस सरकार के कार्यकाल से सारे विकास कार्य ठप पड़े हुए थे। इस पंचायत ने भारतीय जनता पार्टी का हर मोर्चे पर साथ दिया है और सीएम जयराम ठाकुर की सरकार के एक वर्ष के कार्यकाल में यहां पर हर समस्या का निपटारा किया है। चाहे पानी की समस्या हो या बिजली या सड़को की जनता को हर सुविधा प्रदान करवाई है। आगे भी यहां के विकास में कोई कमी नहीं आने दी जाएगी।

        वही इस मौके पर विधायक राकेश जम्वाल ने कांग्रेस पर जुबानी हमला करते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने 2014 का चुनाव भ्रष्टाचार के मुद्दे पर लड़ा। कांग्रेस के शासनकाल में उन के बड़े-बड़े नेता और मंत्री घोटाले कर जेल गए और जनता को उम्मीद थी। जब पीएम मोदी की भाजपा सरकार बनेगी तो भ्रष्टाचार पर अंकुश लगेगा। साढ़े चार वर्ष के कार्यकाल में एक ऐसा मामला सामने नहीं आया जिस में कोई भ्रष्टाचार हुआ। लेकिन राफेल डील को लेकर कांग्रेस प्रयास करती रही कि प्रधानमंत्री को बदनाम किया जाए लेकिन सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद सब दूध का दूध और पानी का पानी हुआ। जो कांग्रेस के लिए सब से बड़ी हार साबित हुआ। मुख्यमंत्री ने पिछले एक साल में डैहर में 33 करोड़ रुपए की पेयजल योजना, सलापड़-तत्तापानी सडक़ को 220 करोड़, एमएलएसएम कॉलेज में कलस्टर विश्वविद्यालय भ के लिए 50 लाख, सुंदरनगर शहर में छह करोड़ की पार्किंग, एक लाख 20 हजार रुपए की लागत से बनने वाले दो ओवर हैंड फुट ब्रिज, निहरी आइटीआइ में कक्षाएं शुरू करना इत्यादि तोहफे दिए है। आने वाले समय में भी सुंदरनगर विकास के नाम पर पिछे नहीं रहेगा।

         पूर्व की कांग्रेस सरकार ने बीणा, कलौहड़, कपाही, अरठीं पंचायतों की अनदेखी की। इन क्षेत्रों का विकास पूर्व कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में थम कर रह गया। उन्होंने कहा कि पिछले एक साल के कार्यकाल की तुलना कांग्रेस के पूर्व विधायक के कार्यों से कर ले तो इतने विकास कार्य आज हुए है बो कभी नहीं हो सकें है। कांग्रेस परिवार से बाहर नहीं निकलती है। विधायक ने कहा कि बीणा में बिजली की समस्या हल करने के लिए 25 केवी के ट्रांस्र्फमर की क्षमता बढ़ाकर 63 केवी कर दी गई है। गांव में पानी की दिक्कत को दूर करने के लिए 80 फीसद पुरानी पाइपों को बदला जा चुका है। नगाड़ा गांव में पानी के टैंक का निर्माण शीघ्र शुरू करवाया जाएगा। इसकी टेंडर प्रक्रिया पूर्ण कर ली गई है। उन्होंने कहा कि बीणा स्कूल परिसर के सडक़ किनारे होने पर साइन बोर्ड और स्पीड ब्रेकर भी बनाए जाएंगे। धंधराशी गांव के लिए मुख्यमंत्री ग्राम पथ योजना के तहत सडक़ पर पुल को दस लाख  रुपए की राशि स्वीकृत की है। उन्होंने बीणा स्कूल की चार दीवारी के लिए एक लाख, स्कूल खेल मैदान के लिए पांच लाख देने की घोषणा की।

              इसके अलावा गांव में पैदल पुल के लिए 25 हजार, बीणा से अपर रड़ा गांव की सडक़ के लिए 50 हजार, श्मशानघाट के लिए 50 हजार, चंद्रसाई सडक़ के लिए 50 हजार, महिला मंडल बीणा के लिए 50 हजार और बीणा स्कूल के सांस्कृतिक कार्यक्रम के लिए विधायक ने 11 हजार रुपए देने की घोषणा की। इस मौके पर एसडीएम राहुल चौहान, अनिल गुलेरिया, अश्वनी गुलेरिया, प्रकाश नायक, घनश्याम वर्मा, शीला देवी, सीता राम, हिक्मत राणा, ओमप्रकाश वर्मा, राजकुमार, लीलाधर ठाकुर, सत्या देवी, धर्म सिंह, डॉ. राकेश राणा, नरेश महाजन आदि उपस्थित रहे।
            वही इस मौके पर विधायक राकेश जम्वाल ने कांग्रेस पर जुबानी हमला करते हुए कहा की भारतीय जनता पार्टी ने 2014 का चुनाव भ्रष्टाचार के मुद्दे पर लड़ा। कांग्रेस के शासनकाल में उन के बड़े-बड़े नेता और मंत्री घोटाले कर जेल गए। जनता को उम्मीद थी जब पीएम मोदी की भाजपा सरकार बनेगी तो भ्रष्टाचार पर अंकुश लगेगा। साढ़े चार वर्ष के कार्यकाल में एक ऐसा मामला सामने नहीं आया जिस में कोई भ्रष्टाचार हुआ। लेकिन राफेल डील को लेकर कांग्रेस प्रयास करती रही कि प्रधानमंत्री को बदनाम किया जाए लेकिन सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद सब दूध का दूध और पानी का पानी हुआ जो कांग्रेस के लिए सब से बड़ी हार साबित हुआ।

Share.

About Author

Leave A Reply