एमबीएम न्यूज़/शिमला
मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने प्रैस क्लब शिमला द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान आज ऐतिहासिक रिज मैदान से स्कूली बच्चों की एक नशा निवारण रैली को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर शामिल हुए मुख्यमंत्री ने नशा निवारण में बच्चों के योगदान पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि बच्चे नशा निवारण अभियान को नई ताकत दे सकते हैं क्योंकि ऐसे अभियानों में उनका रोल हमेशा अहम रहता है। जय राम ठाकुर ने कहा कि बच्चे कहें, तो नशे पर नकेल कसी जा सकती है। बच्चों को सामाजिक दायित्व का पाठ सिर्फ क्लास रूम में ही नहीं पढ़ाया जा सकता है, बल्कि ऐसे आयोजनों में शामिल होकर वह समाज के बीच संदेश वाहक का काम करते हैं। इस अभियान की सफलता के लिए जिद्द के साथ काम करने की आवश्यकता है और कामयाबी तभी संभव है जब इसमें समाज के हर वर्ग की सहभागिता हो।
मुख्यमंत्री ने कहा कि नशा आज हिमाचल प्रदेश ही नहीं, बल्कि देश और समस्त विश्व के सामने चिंता का विषय बन गया है। सरकार अपने दायित्व का निर्वहन कर रही है। नशा तस्करी को रोकने के लिए कानून बनाए गए हैं, अगर जरूरत महसूस हुई तो कानून को और कड़ा किया जाएगा। लेकिन सिर्फ कानून बनाने से ही समस्या का समाधान होने वाला नहीं है। सबसे पहले लोगों को इस सामाजिक बुराई के प्रति सचेत करने के लिए जागरूक करना बेहद आवश्यक है। सरकार की नीतियों के सकारात्मक परिणाम तब तक सामने नहीं आ सकते, जब तक लोग उन्हें स्वीकार न करें। जय राम ठाकुर ने कहा कि राज्य सरकार परिणामों की परवाह किए बगैर सिर्फ अपने काम पर ध्यान दे रही है।

नशा निवारण रैली को हरी झंडी दिखाकर रवाना करते सीएम

जय राम ठाकुर ने कहा कि सामाजिक दायित्वों का बोध बचपन से ही होना चाहिए। उन्होंने कहा कि बच्चों में हर सामाजिक बुराई से लड़ने की क्षमता है। नशा नई पीढ़ी को बर्बाद कर रहा है। उन्होंने समाज के प्रत्येक व्यक्ति से अपील की कि सामाजिक बुराईयों से लड़ने में अपने दायित्व का निर्वहन इस प्रकार से करें कि परिणाम सामने आएं। उन्होंने कहा कि सरकार का कोई भी अभियान लोगों की सक्रिय सहभागिता के बगैर पूरा नहीं हो सकता। उन्होंने बच्चों से नशे जैसी सामाजिक बुराई को समाप्त करने के लिए आगे आने का आह्वान करते हुए कहा कि स्वयं भी नशे से दूर रहे और सेवन करने वाले अपने सगे-संबन्धियों व दोस्तों को भी रोकने के लिए प्रेरित करें।
मुख्यमंत्री ने सामाजिक क्षेत्र में प्रैस क्लब के कार्यक्रमों की सराहना की और कहा कि प्रैस क्लब समय-समय पर ऐसे कार्यक्रमों का आयोजन करता है जिनका सामाजिक सरोकार है। नशा निवारण, स्वच्छता, रक्तदान शिविर व खेल कूद जैसे कई कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं। उन्होंने कहा कि ये हमारा नैतिक दायित्व बन जाता है कि आने वाली पीढ़ी के लिए खतरे को रोकने में हम अपना योगदान दें। स्वच्छता अभियान में भी प्रैस क्लब ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया है, जो आने वाले समय में भी जारी रहेगा।
इससे पहले प्रैस क्लब शिमला के महासचिव अनिल भारद्वाज ने मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर समेत अन्य गणमान्य व्यक्तियों का कार्यक्रम में आने पर स्वागत किया। उन्होंने कहा कि प्रैस क्लब कई जागरूकता अभियानों से जुड़ा रहा है, जो आगे भी जारी रहेगा।
प्रैस क्लब की सदस्य व वरिष्ठ पत्रकार अर्चना फुल ने मुख्य मंत्री जयराम ठाकुर व अन्य गणमान्य व्यक्तियों का धन्यवाद किया।
इस कार्यक्रम में मुख्य मंत्री के मीडिया सलाहाकार रोहित सावल, शिमला नगर निगम की महापौर कुसुम सदरेट, उपायुक्त अमित कश्यप, पुलिस अधीक्षक ओमापति जम्वाल, सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग के निदेशक अनुपम कश्यप भी मौजूद रहे।

Share.

About Author

Leave A Reply