एमबीएम न्यूज़ / नाहन
सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता, सहकारिता मंत्री डॉ. राजीव सहजल ने आज दशमेश गुंरूद्वारा नाहन में दशमेश सेवा सोसायटी के सौजन्य से 40 निर्धन एवं जरूरतमंद लोगों को राशन वितरित किया गया। उल्लेखनीय है कि दशमेश सेवा सोसायटी नाहन द्वारा निर्धन व्यक्तियों को निःशुल्क राशन प्रदान करने के लिए दशमेश रोटी बैंक की स्थापना की गई है जिसके माध्यम से गत मई माह से निर्धन परिवारों को निःशुल्क राशन प्रदान किया जा रहा है।

नाहन गुरुद्वारा में गरीबों को राशन बांटते मंत्री डॉ सहजल

    इस अवसर पर अपने संबोधन में डॉ. राजीव सहजल ने कहा कि दशमेश सेवा सोसायटी द्वारा जरूरतमंद लोगों को राशन वितरित करके समाज सेवा की एक अनूठी पहल आरंभ की गई है और इस पुनीत कार्य में सभी लोगों को अपनी भागीदारी सुनिश्चित करनी चाहिए।
    उन्होने कहा कि दसवें गुरू गोविन्द सिंह द्वारा लंगर की परम्परा स्थापित की गई थी ताकि सभी लोग एक साथ बैठकर भोजन करें जिससे लोगों में आपसी भाईचारा, सदभावना, प्यार तथा पारस्परिक सहयोग की भावना उत्पन्न होती है जिससे राष्ट्र की एकता और अखण्डता को बल मिलता है।
       उन्होने कहा कि दसवें गुरू गोविन्द सिंह जी द्वारा जो परंपराऐं स्थापित की गई थी उसका अनुसरण सिख समुदाय के लोगों द्वारा किया जा रहा है। उन्होने कहा कि  गुरू गोविन्द सिंह त्याग और तपस्या की एक अनूठी मिसाल है जिन्होने धर्म की स्थापना के लिए अपना सर्वस्व न्योछावर किया था। उन्होने  कहा कि यह गौरव का विषय है कि दसवें गुरू गोविन्द सिंह जी 30 अप्रैल, 1685 को नाहन आए और यहां पर आठ महीने 10 दिन व्यतीत किए। इस दौरन उनके द्वारा दो रियासतों सिरमौर और फतेहशाह टिहरी के मध्य वर्षो से चल रहे सीमा विवाद को आपसी समझौता से सुलझाया गया था।
      डॉ0 सहजल ने कहा कि हमारे देश में अनेक महान विभूतियां अवतरित हुई है जिन्होने लोगों को आध्यात्मिकता का पाठ पढ़ाकर सदमार्ग पर चलने का संदेश दिया था। जिस कारण भारत को विश्व गुरू की संज्ञा दी गई थी। उन्होने कहा कि दशमेश सेवा सोसायटी द्वारा जो रोटी बैंक स्थापित किया गया है वह एक सराहनीय कदम है जबकि देश में अभी भी काफी गुरबत है। देश में आज भी लगभग 20 करोड़ निर्धन लोग भूखे सोते हैं।
     इससे पहले डॉ0 राजीव सहजल ने गुरूद्वारा में शीश नवाया। उन्हें दशमेश सेवा सोसायटी द्वारा शॉल व सरोपा भेंट कर सम्मानित किया गया। दशमेश सेवा समिति के महासचिव दलीप सिंह ने मुख्य अतिथि का स्वागत किया जबकि दशमेश प्रबंध समिति के प्रधान अमृत शाह द्वारा गुरूद्वारा की विभिन्न समस्याओं बारे मंत्री को अवगत करवाया। सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री द्वारा उनकी समस्याओं पर सहानुभूतिपूर्वक विचार करने का आश्वासन दिया।
     इस मौके पर दशमेश सेवा समिति के प्रधान सर्वजीत सिंह, उपाध्यक्ष दलवीर सिंह, नाहन भाजपा मण्डलाध्यक्ष दीनदयाल वर्मा, अन्य सदस्यों में परमीत सिंह, अरविंद, गुनीत कौर, अशोक विक्रम सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति और विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।
Share.

About Author

Leave A Reply