सुभाष कुमार गौतम / घुमारवीं
घुमारवीं युवा कांग्रेस पिछले सात दिनों से घुमारवीं सिविल अस्पताल के परिसर में क्रमिक अनशन कर रही है। इस क्रमिक अनशन का एक मात्र उदेश्य घुमारवीं विधान सभा क्षेत्र में पिछले कई महीनों से डॉक्टर ना होना है। घुमारवीं के कांग्रेस मीडिया प्रभारी राजीव शर्मा ने बताया कि पिछले पांच महीनो से घुमारवीं में स्वास्थ्य सेवाएं ठप्प पड़ी है। जहाँ पांच और छ:डॉकटर हुआ करते थे, वहां आज एक डॉक्टर है। भराडी व हटवाड में डॉक्टर ही नहीं है, कहने का मतलब की ये अस्पताल डॉक्टर मुक्त हो गए हैं।

घुमारवीं युवा कांग्रेस दीप जला कर प्रदर्शन करते हुए

जिस कारण लोगों को निजी अस्पतालों में जाना पड़ रहा है। भारी पैसा खर्च करना पड़ रहा है। जबकि घुमारवीं के विधायक चुप्पी साघे हुए हैं। लोगों से अपना स्वागत समारोह करवाने में व्यस्त हैं। राजीव शर्मा ने बताया कि कांग्रेस ने पहले पूर्व विधायक राजेश धर्माणी के नेतृत्व में इसका विरोध किया था, कि इन अस्पतालों में कोई डॉक्टर इसलिए नहीं टिक रहा है क्यूँकि डॉक्टरों को धमकियाँ दी जा रही हैं। कोई भी डॉक्टर यहाँ नहीं टिक रहा है और आने के बाद महीने में ही डॉक्टर्स अपनी ट्रांसफ़र करवा लेते है।
इस लिए तब भी विधायक साहब पर कोई असर नहीं हुआ। इसलिए युवा कांग्रेस ने सोई हुई सरकार को जगाने के लिए विरोध व क्रमिक अनशन का निर्माण लिया है। सोई हुई सरकार को जगाने के लिए युवा कांग्रेस ने अस्पताल के परिसर में दीप जलाकर अनोखा क्रमिक अनशन किया है। ताकि सरकार समय रहते जाग जाए अन्यथा इससे भी पड़ा विरोध प्रदर्शन किया जाएगा।

Share.

About Author

Leave A Reply