वी कुमार/मंडी 
प्रत्येक नागरिक को स्वास्थ्य सुविधाएं लेना उसका मौलिक अधिकार है तथा विश्व स्वास्थ्य संगठन व भारत ने प्रत्येक नागरिक को स्वास्थ्य सुविधाएं देने का संकल्प लिया है। इसी कड़ी के तहत एनआर मैमोरियल औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान गुटकर में विश्व स्वास्थ्य दिवस के अवसर पर सर्व व्यापक स्वास्थ्य सुविधा-हर व्यक्ति के लिए, हर जगह-थीम पर स्वास्थ्य विभाग द्वारा कार्यक्रम का आयोजन किया गया।
कार्यक्रम की अध्यक्षता संस्थान के प्रधानाचार्य अशोक जसवाल ने की। इस समारोह में संस्थान के छात्रों व अध्यापकों सहित 140 प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया। कार्यक्रम में उपस्थित प्रतिभागियों को संबोधित करते हुए जोनल अस्पताल के स्वास्थ्य शिक्षक एनआर ठाकुर ने कहा कि आज पूरी दुनिया में विश्व स्वास्थ्य दिवस हर्षोल्लास के साथ मनाया जा रहा है।
उन्होंने कहा कि अच्छे स्वास्थ्य के लिए संतुलित भोजन, पीने योग्य पानी, टीकाकरण, व्यक्तिगत स्वच्छता, प्रदूषण मुक्त वातावरण, खुले में मल-मूत्र त्यागने की पाबंदी, खराब आदतों से बचाव, जंक फूड के सेवन से दूरी, नशीली दवाओं व तंबाकू का परहेज तथा सकारात्मक दृष्टिकोण आदि बातों पर विशेष ध्यान देने की जरुरत है।
उन्होंने कहा कि सभी के लिए स्वास्थ्य का नारा तभी सार्थक हो पाएगा जब प्रत्येक व्यक्ति को स्वास्थ्य सुविधाएं घर द्वार पर मिले। ये स्वास्थ्य सुविधाएं आम व्यक्ति की पहुंच में होनी चाहिए तथा सस्ती भी हों और हर जगह, हर समय उपलब्ध भी हों। हालांकि हिमाचल और केंद्र सरकार इस ओर अथक प्रयास कर रही है और प्रति वर्ष नई-नई स्वास्थ्य संबंधी कल्याणकारी योजनाओं और कार्यक्रमों के माध्यम से लोगों को लाभ पहुंचाने की कोशिश हो रही है फिर भी अभी बहुत कुछ करना बाकी है।
अच्छे और सबके स्वास्थ्य के लिए यह भी जरुरी है कि आम जनमानस अपनी स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं बारे जागरुक हों तथा बीमारियों से बचने के लिए जो भी सावधानी जरुरी है उसे अमल में लाने की कोशिश करनी चाहिए।
90 प्रतिशत बीमारियों का बचाव जागरुकता के चलते आसानी से हो सकता है। इस मौके पर प्रधानाचार्य अशोक जसवाल ने भी अपने विचार रखे तथा युवाओं से नशे और जंक फूड से दूर रहने का आग्रह किया।

Share.

About Author

Leave A Reply