धर्मशाला (एमबीएम न्यूज़ ): राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की जयंती के अवसर पर कांगड़ा जिला के धर्मशाला में एक विशेष कार्यक्रम आयोजित किया गया। गांधी स्मृति वाटिका में आयोजित इस कार्यक्रम में अतिरिक्त उपायुक्त कमल कांत सरोच ने महात्मा गांधी और लाल बहादुर शास्त्री की प्रतिमाओं पर माल्यार्पण कर अपनी भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की।

     इस अवसर पर अपने संदेश में कमल कांत सरोच ने सभी से महात्मा गांधी व शास्त्री जी की बहुमूल्य शिक्षाओं को जीवन में उतार कर उनके दिखाए सन्मार्ग पर चलने का आह्वान किया। उन्होंने युवाओं से सकारात्मक व आशीर्वाद दृष्टिकोण के साथ आगे बढ़ने का आह्वान करते हुए कहा कि भारत एक युवा देश है और युवा शक्ति सकारात्मक सोच व प्रयासों से राष्ट्र निर्माण में बड़ी भूमिका निभा सकती है।
सरोच ने कहा कि विविधता में एकता भारत की विशिष्टता है। उन्होंने लोगों से गांधी जी के दिखाए सत्य, अहिंसा व सर्वधर्म समभाव के मार्ग के अनुसरण के साथ-साथ महात्मा गांधी के स्वच्छ भारत के निर्माण के स्वप्न को साकार करने केे लिए प्रयास करने का आग्रह किया। इस दौरान गांधी वाटिका में सर्वधर्म समभाव सभा का आयोजन भी किया गया। सभा में विभिन्न सम्प्रदायों के धर्म गुरूओं ने धर्म की सत्य, अहिंसा व प्रेम जैसी मूल शिक्षाओं पर प्रकाश डाला। इस अवसर पर एडीएम मस्त राम भारद्धाज, एसी शशि पाल नेगी तथा अन्य वरिष्ठ अधिकारियों व शहर के गणमान्य लोगों ने भी महात्मा गांधी एवं लाल बहादुर शास्त्री की प्रतिमाओं पर माल्यार्पण कर अपने श्रद्धासुमन अर्पित किए।

इसके उपरांत एडीसी कमल कांत सरोच ने अन्य अधिकारियों तथा कर्मचारियों और युवाओं के साथ बस अड्डा धर्मशाला के समीप स्वच्छता अभियान के अन्तर्गत सफाई में हाथ बंटाया।इससे पूर्व, सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग के नाट्य दल के कलाकारों ने हनुमान मंदिर चौक से गांधी स्मृति वाटिका तक प्रभातफेरी निकाली। अतिरिक्त उपायुक्त कमल कांत सरोच सहित जिला प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों, विभिन्न स्कूलों के विद्यार्थियों व बड़ी संख्या में शहरवासियों ने प्रभातफेरी में शिरकत की। गांधी स्मृति वाटिका में सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग के कलाकारों ने संगीत सभा का आयोजन कर गांधी जी के प्रिय भजनों के गायन से समा बांधा।

Share.

About Author

Leave A Reply