लाहौल-स्पीति(एमबीएम न्यूज़): जिले के प्रसिद्ध धार्मिक स्थल त्रिलोकीनाथ का तीन दिवसीय जिला स्तरीय पोरी मेला शुक्रवार देर शाम को आरंभ हो गया। जिला के उपायुक्त देवा सिंह नेगी ने इसका विधिवत शुभारंभ किया। इस अवसर पर बड़ी संख्या में उपस्थित श्रद्धालुओं को पोरी मेले की   शुभकामनाएं देते हुए उपायुक्त ने कहा कि यह मेला जिला की प्राचीन और बहुत ही समृद्ध लोक संस्कृति का प्रतीक है।
               मेले व उत्सव हमारी लोक संस्कृति के संरक्षण में बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका अदा करते हैं। इन आयोजनों के माध्यम से हमारी युवा पीढ़ी प्राचीन संस्कृति से रूबरू होती है। उन्होंने कहा कि आधुनिकता के साथ-साथ हमें अपनी संस्कृति व परंपराओं को भी संजोकर रखना चाहिए। ये संस्कृति और परम्पराएं ही हमें विश्व में अलग पहचान देती हैं। विशेषकर नई पीढ़ी को हमारी सदियों पुरानी संस्कृति से अवगत करवाया जाना चाहिए।
           उपायुक्त ने कहा कि त्रिलोकीनाथ और इसके आस-पास के क्षेत्रों में पर्यटन की काफी अच्छी संभावनाएं मौजूद हैं। इसके मददेनज़र क्षेत्र में सभी मूलभूत सुविधाओं का विस्तार किया जाएगा। मेले के उदघाटन अवसर पर लोक कलाकारों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किए।पोरी मेला आयोजन समिति की अध्यक्ष एवं स्थानीय पंचायत प्रधान मानदेई देवी ने उपायुक्त का स्वागत किया तथा मेले में आयोजित की जाने वाली विभिन्न गतिविधियों की जानकारी दी। उद्घाटन समारोह में जिला परिषद सदस्य सोमदेई, बीडीसी सदस्य सुमन, उपप्रधान बुद्धि सिंह और अन्य गणमान्य लोग भी उपस्थित थे।
Share.

About Author

Leave A Reply