सोलन,21 अक्तूबर : जिला के 50-अर्की विधानसभा क्षेत्र में 30 अक्तूबर, 2021 को आयोजित होने वाले उप निर्वाचन में शत-प्रतिशत मतदान सुनिश्चित बनाने के उद्देश्य से क्षेत्र के गांव-गांव में सुव्यवस्थित मतदाता शिक्षा एवं निर्वाचन सहभागिता कार्यक्रम (स्वीप) के तहत विभिन्न जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। 

स्वीप टीम के सदस्यों द्वारा अर्की विधानसभा क्षेत्र के विभिन्न शैक्षणिक संस्थानों में जहां छात्र-छात्राओं को वोट के महत्व की जानकारी प्रदान की जा रही है वहीं जागरूकता वाहन के माध्यम से लोगों को भी मतदान के लिए प्रेरित किया जा रहा है। यह जानकारी स्वीप कार्यक्रम के नोडल अधिकारी शिव कुमार ने दी।

शिव कुमार ने कहा कि जागरूकता कार्यक्रम की कड़ी में आज राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला मांगू में छात्र- छात्राओं को वोट के महत्व से अवगत करवाने के लिए चित्रकला प्रतियोगिता आयोजित की गई। इस प्रतियोगिता में छात्र-छात्राओं ने बढ़चढ़ कर भाग लिया। प्रतियोगिता के प्रतिभागियों को पुरस्कार भी प्रदान किए गए।

स्वीप टीम के सदस्यों द्वारा छात्र-छात्राओं को लोकतन्त्र में वोट के महत्व की जानकारी प्रदान की। उन्होंने कहा कि छात्र-छात्राएं भारत के निर्वाचन आयोग के दूत हैं तथा लोकतन्त्र में शत-प्रतिशत भागीदारी सुनिश्चित करने में छात्र-छात्राओं की अहम भूमिका है। उन्होंने कहा कि छात्रों को बताया गया कि वे अपने अभिभावकों तथा अन्य पड़ोसियों को भी मतदान के लिए प्रेरित करें।

उन्होंने कहा कि स्वीप के तहत शालाघाट, दानोघाट तथा मांगू में जागरूकता वाहन के माध्यम से लोगों को वोट के महत्व के बारे में बताया गया। लोगों को अवगत करवाया गया कि स्वस्थ लोकतंत्र के लिए पूर्ण जनसहभागिता आवश्यक है। लोगों को बताया गया कि भारत के निर्वाचन आयोग द्वारा नवीन प्रयासों के माध्यम से अधिक से अधिक लोगों द्वारा मतदान करवाने की दिशा में कार्य किया जा रहा है। 

लोगों जानकारी दी गई कि 80 वर्ष से अधिक आयु के मतदाताओं, दिव्यांग मतदाताओं के लिए अपने घर से ही मतदान करने की सुविधा प्रदान की गई है। 50-अर्की विधानसभा क्षेत्र में 950 से अधिक मतदाताओं वाली संख्या वाले मतदान केन्द्रों के साथ लोगों की सुविधा के लिए सहायक 22 मतदान केन्द्र स्थापित किए गए हैं ताकि कोविड-19 के दृष्टिगत भीड़ एकत्र न हो। 

इस अवसर पर लोगों से आग्रह किया गया कि सभी कोविड-19 महामारी से बचाव के लिए नियमों का पालन करें। लोगों से आग्रह किया गया कि सार्वजनिक स्थानों पर नाक से ठोड़ी तक ढकते हुए मास्क पहनें, सोशल डिस्टेंसिग नियम का पालन करें और बार-बार अपने हाथ साबुन अथवा अल्कोहल युक्त सैनिटाइजर से साफ करते रहें। इस अवसर पर विद्यालय के प्रधानाचार्य, स्वीप टीम के पुनीत ठाकुर, संजय वर्मा तथा छात्र-छात्राएं उपस्थित थीं।

Share.

Leave A Reply