रिकांगपिओ , 06 अप्रैल : पिछले दो दिनों से किन्नौर में रुक रुक कर बारिश होने से क्षेत्र में ठंड बढ़ गई है। मौसम में आई इस परिवर्तन से जहां जिला के माध्यम व ऊंचाई वाले क्षेत्रों के किसान व बागवानों के लिए इसे अमृत तुल्य माना जा रहा है। वहीं जिला के निचले क्षेत्रों में इस दिनों सेब की फ्लावरिंग योवन पर होने से इस बारिश का फ्लावरिंग पर विपरित असर पड़ने के भी आसार देखे जा रहे है।    

किन्नौर में पिछले कुछ दिनों से मौसम में आई इस परिवर्तन से ऊंचे चोटियों पर बर्फ पड़नी भी शुरू हो गई है। जिस से तापमान में काफी गिरावट दर्ज की जा रही है। किन्नौर के पर्यटन स्थल छितकुल,सांगला,करछम, कुन्नू-चारंग असरंग, नेसंग आदि क्षेत्रों में तो न्यूनतम तापमान दर्ज किया जा रहा है।

उधर उपायुक्त किन्नौर हेमराज बैरवा ने खराब मौसम को देखते हुए लोगों से अपील किया कि अनावश्यक रूप से सफर ना करें। उन्होंने कहा कि ऐसे मौसम में सावधानी बरतने की जरूरत है। बारिश होने से पहाड़ो में पत्थर गिरने का खतरा बना रहता है। उन्होंने कहा कि किसी भी अप्रिय घटना से निपटने के लिए प्रशासन पूरी तरह  तैयार है। प्रशासन की टीम पूरी तरह मुस्तेद है। हर रोज़ सब डिवीजन से फीड बेक लिया जा रहा है। अभी तक किसी भी जगह से नुकसानी की कोई सूचना नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *