अमरप्रीत सिंह/सोलन

टफमैन की ओर से मशोबरा में आयोजित शिमला अल्ट्रा एंड हॉफ मैराथन में गुरूकुल इंटरनेशनल सीनियर सेकेंडरी स्कूल की दसवीं कक्षा की छात्रा दीया कपूर ने 5 किलोमीटर दौड़ में दूसरा स्थान हासिल किया है। इसी दौड़ में दीया के छोटे भाई रचित कपूर ने भी अपनी रेस पूरी कर फिनिशर मैडल हासिल किया। पांच किलोमीटर दौड़ के महिला वर्ग में दिल्ली की अवंतिका पहले, सोलन की दीया कपूर दूसरे और गुडग़ांव हरियाणा की इशिता गोयल ने तीसरा स्थान हासिल किया।

इसी तरह पांच किलोमीटर पुरुष वर्ग में मोहाली के दैविक शर्मा पहले, दिल्ली के विपुल विष्ट दूसरे और गुरदासपुर पंजाब के अंगद सिंह तीसरे स्थान पर रहे। दीया कपूर ने अपनी इस सफलता पर खुशी जताई। दीया ने बताया कि यह रेस भारत की कठिन रेस में शुमार है और कंपीटिशन भी बहुत होता है। रेस का रूट बेहद कठिन था और अढ़ाई किलोमीटर की खड़ी चढ़ाई थी। मां कल्पना परमार इसी रूट पर 80 किलोमीटर दौड़ रही थी और भाई रचित कपूर भी साथ दौड़ रहा था। इससे मेरा हौसला बढ़ गया और मैंने इस रेस में अपना बेस्ट दिया।

इस टफमैन मैराथन में 80, 50, 30, 21, 10 किलोमीटर की दौड़ें थी। इसमें देश के नामी धावकों के अलावा एक दर्जन विदेशी एथलीट ने भी भाग लिया। 15 साल से कम आयुवर्ग के बच्चों के लिए 5 किलोमीटर की दौड़ थी। दीया ने बताया कि टफमैन की सभी दौडों में वह हिमाचल की एकमात्र धावक रही, जिसने मैडल हासिल किया। इससे वह बेहद खुश हैं और प्रदेश के लिए और मैडल जीतना चाहती है। इसके लिए वह और अधिक मेहनत करेगी। वह अपनी सफलता का श्रेय अपनी मां कल्पना परमार को देती है, जो उन्हें हमेशा दौड़ के लिए प्रेरित करती है।

Share.

About Author

Leave A Reply