नितेश सैनी/सुंदरनगर 

ग्राम पंचायत चमुखा के पटियाला गांव में पंचायत प्रतिनिधियों की दबंगई जनता पर भारी पडऩे लगी है। पंचायत प्रतिनिधियों ने पुरानी पाइप लाइन से जबरन पेयजल का कनेक्शन दे डाला है। वहीं इसके कारण 15-20 परिवारों के 30-40 लोग पेयजल को लेकर प्रभावित हो गए हैं। प्रभावित लोगों द्वारा बताया जा रहा है कि तंग करने की नियत से पंचायत प्रतिनिधियों ने इस कृत्य को आईपीएच विभाग के कर्मचारियों के साथ मिलकर अंजाम दे डाला है। इस संदर्भ में ग्रामीणों का एक प्रतिनिधिमंडल सुंदरनगर के विधायक राकेश जंवाल से मिला और सारी व्यथा बयान की।

विधायक ने स्पष्ट किया कि उन्होंने विभाग को इस तरह के कोई भी निर्देश नहीं दिए हैं। पंचायत प्रतिनिधि मात्र जनता को गुमराह करने के लिए ऐसा कर रहे हैं। उन्होंने कहा है कि जल्द ही ऐसे पंचायत प्रतिनिधियों की शिनाख्त करके उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। विभाग व पुलिस को भी आदेश दिए जाएंगे। मामले में ग्राम पंचायत चमुखा प्रधान कौशल्या देवी का कहना है कि उन्हें इस मामले के बारे में जानकारी है। जल्द ही उचित कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

सहायक अभियंता आईपीएच विभाग सुंदरनगर रजत शर्मा ने कहा कि मामले को लेकर शिकायत आई है। विभाग ने इस तरह का कोई भी कनेक्शन देने के निर्देश नहीं दिए हैं। इस मामले में संलिप्त के खिलाफ कानूनी व विभागीय कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

Share.

About Author

Leave A Reply