नितेश सैनी/सुंदरनगर
शुक्रवार को जिला के सुंदरनगर में प्रदेश 108-102 कॉन्ट्रैक्ट वर्कर यूनियन की मीटिंग बैठक आयोजित की गई। इस अवसर पर यूनियन के प्रदेशाध्यक्ष पूर्ण चंद ने बतौर मुख्यातिथि शिरकत की। बैठक में यूनियन के 12 जिला के सभी कोऑर्डिनेटर ने भी भाग लिया। जानकारी देते हुए प्रदेशाध्यक्ष पूर्ण चंद ने कहा कि इस बैठक का आयोजन 108 कर्मचारियों द्वारा अपने-अपने क्षेत्र में कार्य के दौरान आने वाली विभिन्न समस्याओं को लेकर किया गया था। बैठक में कर्मचारियों द्वारा उनके कार्य क्षेत्रों में आने वाली समस्याओं को लेकर डीसी को भी ज्ञापन प्रेषित किया। उन्होंने कहा कि जिला जोन में आने वाले चार जिले कुल्लू, मंडी, लाहौल व स्पीति और बिलासपुर में कार्यरत कर्मचारियों को जीवीके ईएमआरआई कंपनी के मंडी जोन के प्रोग्राम मेनेजर द्वारा अकारण तंग किया जा रहा है।

बैठक में भाग लेते 108 एंबुलेंस में कार्यरत

            कंपनी द्वारा निर्धारित मापदंड के अनुसार एंबुलेंस में कार्यरत कर्मचारी को 30 किलोमीटर के दायरे से बाहर नहीं भेजा जा सकता है, लेकिन प्रोग्राम मेनेजर मनमानी कर कुल्लू वाले कर्मचारीयों को मंडी और मंडी वालों को कुल्लू भेज रहा है। इस कारण कर्मचारी बहुत अधिक परेशान हो रहे हैं।  कंपनी द्वारा समय पर एंबुलेंस के तेल बिलों का भुगतान नहीं होने के कारण सुंदरनगर, बल्ह, गोहर, जोगिंद्रनगर व सिराज से 70 किलोमीटर का सफर तय कर एंबुलेंस लेकर मात्र तेल भरवाने के लिए आना पड़़ता है। इससे समय के साथ-साथ आपातकाल में लोगों को एंबुलेंस सुविधा प्रदान करने में मुश्किल आ रही हैं। पूर्ण चंद ने कहा कि इस बैठक में क्षेत्र में कार्यरत 108 एंबुलेंस सेवा की खस्ता हाल गाडिय़ों को लेकर भी चर्चा की गई।
          कर्मचारीयों द्वारा बार-बार एंबुलेंस की मर मत को लेकर कंपनी के स्थानीय अधिकारियों को अवगत करवाने के बाद भी समस्या जस की तस बनी हुई है। उन्होंने कहा कि कंपनी के इस रवैए से मरीजों और कर्मचारीयों के जीवन से खिलवाड़ हो रहा है। उन्होंने कहा कि अगर हमारी समस्या का जल्द हल नहीं किया जाता है तो कंपनी और सरकार के खिलाफ हाईकोर्ट में पहले से लंबित पड़े हुए मामले में स्टेटस रिपोर्ट फायल कर इन समस्याओं से न्यायालय को भी अवगत करवाया जाएगा। इस बैठक में 108 एंबुलेंस में कार्यरत लगभग 40 ईएमटी व पायलट ने भाग लिया।
Share.

About Author

Leave A Reply