नितेश सैनी/सुंदरनगर 
  कम्युनिटी हॉल सुंदरनगर में पंचायती राज संस्थानों के प्रतिनिधियों के लिए टीवी मुक्त ग्राम पंचायत विषय पर विशेष कार्यशाला का आयोजन किया गया। जिसकी अध्यक्षता डॉ. अविनाश ने की। ग्राम पंचायत प्रधान, उपप्रधान और सचिव को इस कार्यशाला के माध्यम से टीवी मुक्त ग्राम पंचायत बनाने का संकल्प लिया। डॉक्टर अविनाश ने बताया कि हिमाचल प्रदेश में सिर्फ सरकारी अस्पतालों में 15 से 16 हजार के तकरीबन मामले प्रतिवर्ष आ रहे हैं। लगभग एक हज़ार टीवी मरीजों का डाटा प्राइवेट अस्पताल से आ रहा है। अनुमान है कि प्राइवेट सैक्टर में लगभग नौ हज़ार टीवी मरीज अपना इलाज करवाते हैं। उन्होंने बताया कि हिमाचल जैसे छोटे राज्य में 24 से 25 हज़ार लोगों को टीवी रोग होना एक गंभीर विषय है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में लगभग 600 लोगों की टीवी रोग से असमय मृत्यु हो रही है। प्रदेश में तकरीबन 300 लोगों में बिगड़ी टीवी के मामले आ रहे हैं।
   उन्होंने बताया कि टीवी रोग की समस्या कितनी गंभीर है इस पर रोकथाम के लिए मुख्यमंत्री से रोग निवारण योजना का आगाज किया गया है। उन्होंने बताया कि सुंदरनगर क्षेत्र के तहत ग्राम पंचायत कनैड में 2018 में 15 और यदि ग्राम पंचायत चाबी में 2018 में 10 सबसे ज्यादा मामले ग्राम पंचायत बार टीवी रोग से ग्रस्त मरीजों के सामने आए हैं। उन्होंने बताया कि चांबी और डेहर क्षेत्र की पंचायतें तीसरे नंबर पर आती हैं। डॉक्टर अविनाश ने बताया कि इसी तरह स्वास्थ्य विभाग के पास वार्ड वाइज और विलेज वाइज भी टीवी मरीजों का डाटा उपलब्ध है। इस डाटे का उपयोग किसी क्षेत्र में टीवी रोग की घटना का पता लगाने के लिए और टीवी नियंत्रण के लिए किया जाता है। उन्होंने कहा कि यह बात उचित है कि टीवी रोग ना सिर्फ दुनिया भर में ही नहीं बल्कि हमारी पंचायत में एक गंभीर समस्या बन चुकी है। टीवी रोग का जड़ से खात्मा करना हम सबके लिए एक बड़ी चुनौती है।
     यह कार्य मुश्किल जरूर है, परंतु असंभव कदापि नहीं है। जरूरत है तो बस यूनिटी टू एंड टीवी थीम के तहत काम करने की। डॉक्टर अविनाश ने बताया कि हिमाचल सरकार ने हिमाचल को 2021 तक टीवी मुक्त करने का  संकल्प ले रखा है। उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य खंड रोहंडा में टीवी रोग जांच की सुविधा सिविल अस्पताल सुंदरनगर, कम्युनिटी हेल्थ सेंटर रोहंडा व कम्युनिटी हेल्थ सेंटर डेहर में उपलब्ध है। इस अवसर पर डॉक्टर अंकुश शर्मा डॉ. नितिन ठाकुर, डॉ. स्वाति शर्मा, डॉ. अभिषेक शर्मा और हेल्थ एजुकेटर हेतराम के अलावा सुंदरनगर विधानसभा क्षेत्र के 49 पंचायतों के प्रधान उपप्रधान और सचिव के तकरीबन 100 लोगों ने भाग लिया।
Share.

About Author

Leave A Reply