एमबीएम न्यूज़/धर्मशाला 
  वरिष्ठ साहित्यकार तथा हिमाचल सूचना एवं जनसंपर्क विभाग में उपनिदेशक अजय पराशर के दोहा संग्रह ‘हिम सतसई’ का विमोचन तिब्बती धर्मगुरू दलाई लामा करेंगे। बीते तीन दशक से साहित्य साधना में लगे अजय पराशर के दोहे मनुष्य की चेतना को अर्थपूर्ण अभिव्यक्ति देते नजर आते हैं।
   दोहों में दर्शन, श्रृंगार, नीति, आराधना, नैना, प्रकृति तथा लोकोक्तियों के विषयों के रूप में सात खंडों और 20 उपखंडों में विभाजित ‘हिम सतसई’ का प्राक्कथन निर्वासित तिब्ब्त सरकार के पूर्व प्रधानमंत्री प्रो. समदोंग रिम्पोछे ने लिखा है। पराशर की इस पुस्तक में 729 दोहे हैं। गौरतलब है कि इससे पहले अजय पराशर की कहानी एवं कविताओं की दो पुस्तकें प्रकाशित हो चुकी हैं। उनके कहानी संग्रह ‘मैं जीना सिखाता हूं’ और कविता संग्रह ‘मौन की अभिव्यक्ति’ को सुधी पाठक वर्ग से खूब सराहना मिली है।
Share.

About Author

Leave A Reply