जीता सिंह नेगी/ रिकांगपिओ 

  जिला आपदा प्रबन्धन प्राधिकरण किन्नौर एवं हिप्पा द्वारा तीन दिवसीय घटना प्रतिक्रिया प्रणाली (आईआरएस) की कार्यशाला आयोजित की गई, जिसका उदघाटन उपायुक्त किन्नौर, गोपाल चन्द ने किया। कार्यशाला में विभिन्न विभाग के अधिकारियों  व कर्मचारियों तथा पुलिस, आईटीबीपी ने भाग लिया। कार्यशाला में (आईआरएस) की विशेषताओं व सिद्धांत, संगठन व स्टाफ, घटना संसाधन प्रबंधन, आपदा से निपटने के लिए संगठन तथा घटना एवं योजना के बारे विस्तृत रूप से प्रशिक्षण प्रदान किया गया।

तीन दिवसीय घटना प्रतिक्रिया प्रणाली (आईआरएस) की कार्यशाला में भाग लेते अधिकारी गण

   इस अवसर पर डीसी ने कहा कि घटना प्रतिक्रिया प्रणाली आपदा से निपटने के लिए एक बेहतरीन प्रणाली है। जिसे अपना कर किसी भी तरह की आपदा के समय राहत व बचाव का कार्य व्यवस्थित तरीके से किया जा सकता है।

     उन्होंने अधिकारियों को आहवान करते हुए कहा कि वे घटना व आपदा प्रतिक्रिया प्रणाली को जमीनी स्तर पर क्रियान्वित करने के हर संभव प्रयास करे। डीसी ने कहा कि किन्नौर प्राकृतिक आपदाओं के मामले में बेहद संवेदनशील है। प्राकृतिक आपदाओं जैसी परिस्थितियों से निपटने के लिए पहले से तैयारी रखना आवश्यक है। सेवानिवृत कर्नल सपीन्नाकर ने इस प्रणाली के सफल प्रयोग पर सभी अधिकारियों व कर्मचारियों को विस्तृत जानकारी दी।

Share.

About Author

Leave A Reply