नीना गौतम/कुल्लू 
   बंजार खंड के तहत पड़ने बाले बणाहू गांव के लोग अब जिला प्रशासन व ग्राम पंचायत लारजी के खिलाफ उग्र हो गए हैं। ग्रामीणों ने प्रशासन व पंचायत को चेतावनी दी है कि यदि एक सप्ताह में उनकी समस्याओं का समाधान नहीं किया तो वे लारजी ग्राम पंचायत की घेराबंदी करंगे। उग्र आंदोलन के लिए विवश होंगें। ग्रामीण निरत सिंह, झाबे राम, चमन लाल, रोशन लाल, ध्यान सिंह, रोहित ठाकुर, कुंदन लाल, पीतांबर, योगराज, विजय कुमार आदि ने बताया कि लारजी पंचायत को 1.80 करोड़ की धनराशि लाडा से विकास कार्यों के लिए मिली है। मगर ग्राम पंचायत ने अभी तक 1.62 करोड़ खर्च कर लिए हैं। अब उनको इस धन राशि से गांव की सड़क टायरिंग के लिए धन राशि नहीं दी जा रही है। जबकि ग्राम सभा ने 2016 में प्रस्ताव पारित कर लोनिवि को 15 लाख देने की हामी भरी है।
   उन्होंने डीसी कुल्लू को इसकी सिफारिश की है। अब ग्राम पंचायत लारजी व जिला प्रशासन यह धन राशि देने में आनाकानी कर रहे हैं। लोनिवि में पैसा जमा नहीं किया जा रहा है। जिस कारण गांव की सड़क की हालत बेहद खराब है। ग्रामीणों ने बताया कि इस सड़क में कभी भी कोई बड़ा हादसा हो सकता है, जिसकी जिम्मेदार ग्राम पंचायत लारजी व जिला प्रशासन होगा। उक्त ग्रामीणों का कहना है कि इस मामले को लेकर वे जिला प्रशासन से दो वर्षों में 9 बार मिल चुके हैं, लेकिन कोई भी सुनवाई नहीं हो रही है।
   उन्होंने कहा कि ग्राम पंचायत प्रधान भी इस मामले में रुचि नहीं ले रही है। इस धन राशि को जारी करने में अड़ंगा डाल रही है। ग्रामीणों ने कहा कि इसका समर्थन साथ लगती कोटला व तलाड़ा पंचायत ने भी किया है कि यह सड़क पक्की होनी चाहिए। उक्त पंचायतों ने डीसी कुल्लू को इसका प्रस्ताव प्रेषित किया है। उन्होंने कहा कि अब ग्रामीण तंग आ चुके हैं। उन्होंने निर्णय लिया है कि एक सप्ताह में इस समस्या का समाधन नहीं किया तो वे ग्राम पंचायत लारजी की घेराबंदी करेंगे। जरूरत पड़े तो अनिश्चित कालीन हड़ताल की जाएगी। जिसकी पूरी जिम्मेदारी पंचायत व प्रशासन की होगी।
Share.

About Author

Leave A Reply