एमबीएम न्यूज़/हमीरपुर
भटिंडा से आई एनडीआरएफ की टीम ने नादौन के विभिन्न स्थलों का दौरा किया। विभाग के अधिकारी राम कुमार की अगुवाई में टीम ने नादौन के कोहला, जोलसप्पड़, रैलबटाहली तथा अमतर गांव का दौरा किया। टीम ने ब्यास नदी तथा विभिन्न खड्डों के किनारे पानी आने से हो रहे भूमि कटाव का बारीकी से अध्ययन किया। टीम ने यह आकलन करने का प्रयास किया, कि इस भूमि कटाव के कारण आने वाले समय में इन क्षेत्रों में कितना खतरा हो सकता है तथा इसके बचाव के लिए आगे क्या कदम उठाने चाहिए।

एनडीआरएफ की टीम दौरा करते हुए

            जानकारी देते हुए राम कुमार ने बताया कि इन क्षेत्रों में सबसे अधिक गंभीर स्थिति कोहला व रैल क्षेत्र में उभर रही है। उन्होंने बताया कि नादौन के इन दो क्षेत्रों में खड्डों किनारे सबसे अधिक भूमि कटाव हो रहा है। जो कि चिंता का विषय है। उन्होंने बताया कि इस संबंध में पूरी रिपोर्ट बना कर सरकार को सौंपी जाएगी। ताकि आगे उठाए जाने वाले कदमों के बारे में निर्णय लिया जा सके।
          उन्होंने बताया कि इस संबंध में चैक डैम बनाने तथा अन्य उपायों से भूमि कटाव रोका जा सकता है। उन्होंने बताया कि अन्य स्थलों पर भी इसी तरह से सर्वेक्षण किया जा रहा है। ताकि आपदाओं से बचाव के लिए कदम उठाए जा सकें।
Share.

About Author

Leave A Reply