एमबीएम न्यूज़/ऊना 
इच्छापूर्ति हनुमान मंदिर गगरेट में दोपहर व रात को स्थाई तौर पर लंगर की शुरुआत कर दी गई है। जूना अखाड़ा के महामंडलेश्वर एवं श्री हिन्दू तख्त के धर्माधीश एवं माता कामाख्या देवी असम व श्रीकाली माता मंदिर पटियाला के पीठाधीश्वर जगतगुरु पंचानंद गिरी महाराज ने इसकी शुरूआत। हनुमान मंदिर में लंगर का शुभारंभ चिंतपुर्णी के विधायक बलवीर चौधरी, एएसपी विनोद कुमार एवं एंटी टेरोरिस्ट फ्रंट इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं श्री हिन्दू तख्त के राष्ट्रीय प्रचारक वीरेश शांडिल्य ने किया। लंगर की शुरुआत से पहले हवन का आयोजन भी किया गया। जिसमें आए हुए अतिथियों ने आहुति डाली।
     गतगुरु पंचानंद गिरी ने कहा कि इच्छापूर्ति हनुमान मंदिर में हिमाचल का यह पहला भंडारा होगा जो दो समय चलेगा। गिरी ने कहा इसी तर्ज पर देश के अन्य राज्यों में भी स्थाई लंगर लगवाने के लिए श्री हिन्दू तख़्त प्रयासरत है। अन्नदान सबसे बड़ा दान है। परमात्मा भी इस दान से खुश होते है। अपना भरपूर आशीर्वाद देते है। इससे मन को शांति मिलती है और सुख की प्राप्ति होती है। गिरी ने कहा पंजाब के पटियाला में स्थाई भंडारा पिछले 35 साल से चल रहा है। अब हिमाचल जो देवभूमि है, इस धरती पर स्थाई लंगर शुरू किया गया है। गिरी ने हिमाचल सरकार द्वारा लंगर में दिए गए योगदान के लिए भी सरकार का आभार जताया।
    विधायक बलबीर चौधरी ने संबोधित करते हुए हिमाचल में पहले लंगर की शुरुआत करने वाले जगतगुरु पंचानंद गिरी का धन्यवाद किया। श्री हिंदू तख्त के राष्ट्रीय प्रचारक वीरेश शांडिल्य ने कहा जूना अखाड़ा के महामंडलेश्वर पंचानंद गिरी का सनातन धर्म को मजबूत करने का यह महत्वपूर्ण कदम है। जल्द ही महामंडलेश्वर के प्रयासों से अन्य राज्यों में भी हिंदू तख्त स्थाई लंगर की शुरुआत करेग। इस अवसर पर स्वतंत्र पासी, राजेश केहर, अशोक तिवारी, मनोज सुंद्रियाल, ललित मोहन पांडेय, दीपक शांडिल्य, प्रवेश सैनी, विनती गिरी, मदन गिरी, जयदीप नन्नी, शिव भारद्वाज व सुरेश शर्मा सहित अन्य उपस्थित रहे।
Share.

About Author

Leave A Reply