अमरप्रीत सिंह/सोलन
श्रावण मास के चलते आर्ट आफ लिविंग संस्था द्वारा सोलन के सनातन धर्म मंदिर हॉल में रूद्र पूजा का आयोजन किया गया। रूद्र पूजा के लिए संस्था के वरिष्ठ प्रशिक्षक योगेन्द्र योगी खास तौर पर सोलन पहुंचे। कार्यक्रम की शुरूआत गुरू पूजा से की गई। इसके बाद भगवान शिव की रूद्र रूप की पूजा आरंभ हुई। बैंगलौर से आए वेदाचार्यों ने वैदिक मंत्रोचारण के साथ माहौल को शिवमय बना दिया।

       योगेन्द्र योगी ने रूद्र पूजा के महत्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि विश्व में सकारात्मक एवं नकारात्मक दोनों तरह की उर्जा विद्यमान है। हम जब भगवान शिव की पूजा करते हैं तो हमारे आस-पास मौजूद सभी नकारात्मक ऊर्जाएं जैसे कि बीमारियां, तनाव एवं अप्रसन्नता सकारात्मक उर्जा शांति, स्वास्थ्य एवं प्रसन्नता में बदल जाती है।

पूजा का शुभारम्भ करते वरिष्ठ प्रशिक्षक योगेन्द्र योगी

      उन्होंने कहा कि रूद्र पूजा भारत में प्राचीन काल से होती आ रही हैं। वेदों में भी इसी बुराइयों को हटाने एवं सभी इच्छाओं को पूरी करने वाली सबसे उत्तम पूजा कहा गया है। पूजा के उपरान्त आर्ट आफ लिविंग के भजन गायक अतुल गुरु ने एक के बाद एक शिव भजन गाकर उपस्थित श्रद्वालुओं को झूमने पर मजबूर कर दिया।
   आर्ट आफ लिविंग प्रवक्ता संजय                  जोशी ने बताया कि पूरे प्रदेश में श्रावण मास के दौरान रूद्र पूजा की जा रही है। पूरे मास विभिन्न स्थानों में पूजाओं का दौर जारी रहेगा। इस अवसर पर आर्ट आफ लिविंग प्रशिक्षक संजय, स्वदेश धीमान ,वीणा धीमान, अतुल अरुंधतीएपारुलए ज्योती स्वाती सिम्मी भसीन प्रदीप सूरी सहित अनेक गणमान्य लोग उपस्थित थे।
Share.

About Author

Leave A Reply