जीता सिंह नेगी/रिकांगपिओ
किन्नौर के दूर-दराज क्षेत्र पूह में खण्ड स्तरीय तीन दिवसीय ग्रीष्मोत्सव के समापन समारोह का आयोजन गांधी स्टेडियम में किया गया। जिसकी अध्यक्षता कृषि, जनजातीय विकास एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री डॉ. राम लाल मारकण्डा ने की। इस अवसर पर डॉ. राम लाल मारकण्डा ने जनता को संबोधित करते हुए कहा कि मेले और त्योहार हमारी समृद्ध संस्कृति के परिचायक हैं।

रामलाल मार्कण्डेय सांस्कृतिक दल को स्मृति चिन्ह भेंट करते

    मेले के माध्यम से आपसी मेल जोल, भाईचारे की भावना व दूसरे क्षेत्र की संस्कृति को समझने का अवसर प्राप्त होता है।मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के नेतृत्व में प्रदेश सरकार द्वारा ऐतिहासिक निर्णय लेकर वृद्धावस्था पेंशन योजना की आयु 80 वर्ष से घटाकर 70 वर्ष की गई। जिसमें आय प्रमाण पत्र जैसी सभी प्रात्रता की शर्तों को समाप्त कर दिया गया है। ताकि 70 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोगों को पेंशन दी जा सके। वृद्धावस्था पेंशन को बढाकर 1300 रूपये किया गया है।

    अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि घर-घर जाकर यह सुनिश्चित करें कि कोई भी वृद्धावस्था पेंशन के लाभ से वंचित न रहे। इस अवसर पर उन्हांने पूह में निर्माणाधीन अम्बेडकर भवन के लिए 10 लाख रूपये की अतिरिक्त राशि देने की घोषणा की। इस आयोजन पर उन्होंने गांधी स्टेडियम को पक्का करने, स्टेडियम तक सडक को शीघ्र पक्का करवाने का आश्वासन भी दिया। पूह में सब्जी मण्डी के निर्माण के लिए पंचायत प्रतिनिधियों को जमीन देने का आग्रह किया।

     इस अवसर पर मुख्यातिथि द्वारा उत्सव में लगाई गई उद्यान विभाग, कृषि विभाग, पशु पालन विभाग, स्वास्थ्य एवं परिवार विभाग व स्वयं सहायता समूह द्वारा लगाई गई प्रदर्शिनियों का अवलोकन किया। इस अवसर पर मुख्यातिथि ने विभिन्न सांस्कृतिक दलों, प्रतियोगिताओं में अग्रणी स्थान प्राप्त करने व विभिन्न विभागों के अधिकारियों, कर्मचारियों व मेला समिति के सदस्यों को कार्यक्रम के सफल आयोजन के लिए स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया।

    इस अवसर पर मेला समिति के अध्यक्ष एवं अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी शिव मोहन सैनी ने मुख्यातिथि को शॉल व टोपी पहनाकर व सचिव मेला समिति हुसन चन्द, उप प्रधान सुशील साणा व मेला समिति के सदस्यों ने खातग पहनाकर व स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया। उप प्रधान पूह सुशील राणा ने मुख्यातिथि डॉ. राम लाल मारकण्डे, अन्य अतिथि व उपस्थित जनसमूह का स्वागत किया। अपनी क्षेत्र की समस्याओं से भी अवगत करवाया।

    मेले के सफल आयोजन के लिए विभिन्न पंचायतों के प्रतिनिधियों, व्यापार मण्डल, ट्रक यूनियन व सभी विभागाध्यक्षों को आर्थिक रूप से सहायता देने के लिए आभार प्रकट किया। विभिन्न विभागों के अधिकारी, कर्मचारी, जिला परिषद सदस्य व विभिन्न पंचायतों के प्रतिनिधि भी इस अवसर पर उपस्थित रहे।

Share.

About Author

Leave A Reply