एमबीएम न्यूज़/नाहन 
सिरमौर जिला में भारी वर्षा, बाढ़ और भू-स्खलन को देखते हुए डीसी ललित जैन ने जिला में कार्यरत सभी प्रशासनिक व अन्य सभी विभागों के अधिकारियों को अपरिहार्य स्थिति को छोड़कर अवकाश पर न जाने के निर्देश दिए है। ताकि किसी भी आपात स्थिति में तुरंत राहत व बचाव कार्य आरंभ किए जा सके। डीसी शनिवार को यहां जिला अधिकारियों की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।
    उन्होने जिला में कार्यरत सभी एसडीएम और तहसीलदारों को निर्देश दिए कि भारी वर्षा व भू-स्खलन के कारण निजी सम्पति को होने वाले नुकसान का मोैके पर जाकर जायजा लें। प्रभावित व्यक्तियों के पुनर्वास के लिए तुरंत प्रभावी पग उठाए जाऐं। राहत नियमावली के तहत संबंधित व्यक्ति को राहत प्रदान की जाए।
    उन्होने कहा कि लोगों की सुविधा के जिला मुख्यालय पर नियंत्रण कक्ष स्थापित किया गया है। जिस पर कोई भी व्यक्ति आपात स्थिति में टॉल फ्री नम्बर 1077 पर सहायता के लिए संपर्क कर सकता है। इसके अतिरिक्त जिला के सभी एसडीएम, तहसील व विकास खण्ड कार्यालयों में नियंत्रण कक्ष स्थापित किए गए है। उन्होने लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि जिला में भारी वर्षा व भू-स्खलन के कारण बंद पड़ी सभी सड़कों को युद्धस्तर पर खोला जाए, ताकि लोगों को कोई परेशानी न हो। वर्तमान में किसानों की टमाटर व अन्य नकदी फसले तैयार हुई है। जिन्हेें मंडियों में पहुंचाने के लिए सड़कों का खुला रहना अत्यंत आवश्यक है।
    उन्होने विभाग को निर्देश दिए कि सड़कों के संवेदनशील स्थलों पर जेसीबी को तैनात रखा जाए ताकि सड़क के बंद होने पर तुरंत खोला जा सके। डीसी ने सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य विभाग को निर्देश दिए कि भारी वर्षा के कारण जिन पेयजल योजनाओं को क्षति हुई है उनकी मुरम्मत युद्धस्तर पर की जाए। ताकि पानी की आपूर्ति सामान्य बनी रहे। वर्षा के कारण पानी मटमैला होने से दूषित हो रहा है जिसे फिल्टर करके लोगों को उपलब्ध करवाया जाए ताकि गंदे पानी के इस्तेमाल से किसी प्रकार की जल जनित बिमारी के फैलने की संभावना उत्पन्न न हो।
    उन्होने स्वास्थ्य विभाग को निर्देश दिए कि जिला के सभी स्वास्थ्य संस्थानों में जीवन रक्षक दवाऐं उपलब्ध रखें। संबधित अधिकारियों व कर्मचारियों को स्टेशन पर रहने के निर्देश दें। उन्होने विद्युत बोर्ड के अधिकारियों को निर्देश दिए कि भारी वर्षा से विद्युत लाईनों को काफी नुकसान पंहुचा है। विद्युत आपूर्ति सामान्य बनाए रखने के लिए विद्युत लाईनों की युद्धस्तर पर मुरम्मत करवाई जाए। जिला के जिन ग्रामीण क्षेत्रों में भारी वर्षा के कारण विद्युत आपूर्ति बाधित हुई है उन्हें शीघ्र बहाल किया जाए।            खाद्य एवं आपूर्ति विभाग को निर्देश दिए कि जिला की उचित मूल्यों की दुकानों पर खाद्यान्न की आपूर्ति सुनिश्चित की जाए। संबधित अधिकारी प्रतिदिन सरकारी डिपूओं में मिलने वाली राशन की उपलब्धता बारे सूचना उपायुक्त कार्यालय को देगें। बैठक में पुलिस अधीक्षक रोहित मालपानी, सहायक आयुक्त शिवम प्रताप सिंह, जिला में कार्यरत सभी एसडीएम और सभी वरिष्ठ अधिकारियों ने भाग लिया।
Share.

About Author

Leave A Reply