अभिषेक मिश्रा/ बिलासपुर
एक ईन्ट शहीद के नाम” अभियान के अंतर्गत कोई भी नागरिक राष्ट्र भक्ति के इस महायज्ञ में अपनी आहुतियां अर्पित कर के शहीदों के बलिदान को सम्मान देने की दृष्टि से यह सौभाग्य प्राप्त कर सकता हैं। उपायुक्त विवेक भाटिया ने कोठी पुरा पंचायत के अम्बेदकर भवन में आयोजित एक ईन्ट शहीद के नाम” अभियान कार्यक्रम के तहत सम्बोधित करते हुए प्रकट किए। इस अवसर पर ग्राम पंचायत कोठीपुरा और राजपुरा पंचायत के लोगों द्वारा 6-6 क्विंटल सरिया शहीद स्मारक के निर्माण कार्य के लिए भेंट किया। इस मौके पर उपायुक्त ने शहीद नंत राम के प्रतिमा पर माल्यापर्ण कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की।

उपस्थित जनसमूह को सम्बोधित करते DC विवेक भाटिया

डीसी ने इस अवसर पर कहा कि इस अभियान की मुख्य विषेशता यह है, कि इसमें लोगों से केवल ईन्ट, सिमेन्ट , सरिया या निर्माण कार्यो में प्रयुक्त होनें वाली अन्य सामग्री को ही एकत्रित किया जाएगा। जिनके लिए वाकायदा ”संग्रह केन्द्र” निर्धारित किए गए हैं। उन्होंने बताया कि प्रत्येक पंचायत के पांच-पांच स्वयं सेवी कार्य कर रहे हैं जो लोगों से प्राप्त सामग्री को एकत्रित करके निर्माण स्थल तक पहुचा रहे हैं। उन्होंने कहा कि इन संग्रह केन्द्रों में पहुंच पाने में असमर्थ बुजुर्गों व अन्य लोगों से स्वयंसेवी खुद उनके पास जाकर ”सामग्री” प्राप्त कर रहे है। उन्होंने कहा कि इस निर्माणाधीन स्मारक के कार्य के लिए लोग श्रम दान भी कर सकते हैं। उल्लेखनीय है कि किसी भी व्यक्ति से इस अभियान के लिए नकद राशि नहीं ली जाएगी।
इस अवसर पर एडीएम विनय कुमार ने कहा कि इस अभियान के माध्यम से शहीदों व उनके परिवारों के लिए आम जनमानस को जहां कुछ करने का मौका मिलेगा वहीं नई पीढी को राष्ट्र भक्ति और उनके पद चिन्हों पर चलने की प्रेरणा भी मिलेगी। इस अवसर पर कार्यक्रम के संयाजक संजीव राणा ने जानकारी देते हुए बताया कि अब तक 45 हजार ईंटे स्मारक निर्माण के लिए प्राप्त हो चुकी हैं। उन्होंने कहा कि यह सुखदः आश्चर्य की बात है कि लोग शहीद स्मारक के निर्माण के लिए स्वेच्छा से निर्माण सामग्री को भेट कर रहे हैं और निरन्तर निर्माण स्थल पर श्रमदान करके शहीदों के प्रति अपनी सच्ची श्रद्धाजंलि अर्पित कर रहे है।
इस मौके पर इस अवसर पर सुवेदार मेज़र प्रेम सिहं मनहास, कैप्टन बाबू राम, स्ट्राईकर हांडा, लोक निर्माण विभाग के संजय कुमार, राजेन्द्र कुमार, नरेश चंदेल, चेत राम वर्मा, राजपुरा पंचायत के प्रधान राम दयाल के अतिरिक्त युद्ध विधवाएं और स्थानीय ग्राम पंचायत के गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे।

Share.

About Author

Leave A Reply