एमबीएम न्यूज़ / कुल्लू

परिवहन मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर के गृह जिला में एचआरटीसी की मनमानी स्कूली बच्चों पर भारी पड़ने लगी है। जिला मुख्यालय कुल्लू से करीब सात-आठ किलोमीटर काईस-कराडसू पंचायतों के बच्चों को एचआरटीसी की लेट लतीफी का खमियाजा भुगतना पड़ रहा है। जिस कारण स्कूली विद्यार्थी शनिवार को स्कूल जाने के वजाए एडीएम कुल्लू के दरबार पहुंचे। करीब 40 छात्र छात्राओं ने एडीएम कुल्लू से बस की समस्या साझा की। इसका समाधान तलाशने की मांग की।

एसडीएम को शिकायत पत्र सौंपते विद्यार्थी

    उनके साथ इस दौरा कराडसू पंचायत के पूर्व प्रधान खेख राम, स्थानीय निवासी अमर नाथ भी मौजूद रहे। जिन्होंने छात्र छात्राओं की समस्या एडीएम कुल्लू अंकुश सूद से उठाई है।

     छात्र छात्राओं में आकाश, माया, कला ठाकुर, तान्या, योगराज, लक्ष्मी, शीतल, पदमा, पूजा, निर्मला, कांता, सोमवती, सोनिया, रमेश, बबीता, रितेश, प्रीती, गीता, शारदा, मनीषा आदि छात्र छात्राओं का कहना है कि क्षेत्र के कोटाधार, सौर, सोईल, राउगी, मझधारी, विष्टबेहड, काईस आदि गांवों से बच्चे राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला सेउबाग, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला ढालपुर छात्र के साथ साथ कुल्लू कॉलेज में भी विद्यार्थी पढ़ते हैं जो कोटाधार-कुल्लू बस में आते हैं।

    पिछले एक महीने से कोटाधार बस निर्धारित समय से काफी लेट कुल्लू पहुंच रही है, जिस कारण छात्र छात्राओं को स्कूल में समय पर पहुंचने में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने बताया कि हालांकि एक महीना पहले तक यह बस विद्यार्थियों काे समय पर कुल्लू पहुंचाती थी लेकिन एक महिने से यह बस लेट हाे रही है।

   जिस कारण स्कूली बच्चों को स्कूल में एक घंटा गेट के बाहर गुजारना पड़ रहा है। ऐसे में वे परेशान हैं और इस समस्या को लेकर एडीएम कुल्लू के दरबार पहुंचे। जहां एडीएम कुल्लू अंकुश सूद ने उन्हें आश्वासन दिया है कि इस समस्या का जल्द समाधान हो जायेगा।

Share.

About Author

Leave A Reply