रिकांगपिओ/जीता सिंह नेगी
जिला में त्वरित प्रतिक्रिया टीम के गठन व आगामी मानसुन के आगमन से पूर्व आपदा प्रबंधन के लिए तीन दिवसीय कार्यशाला का शुभारम्भ आज उपायुक्त सभागार में किया गया। जिसकी अध्यक्षता सहायक आयुक्त-उपायुक्त सुरेन्द्र ठाकुर ने की। इस बैठक का आयोजन आपदा जोखिम न्युनीकरण बारे जागरुकता के लिए केन्द्रीय प्रायोजित योजना के अंतर्गत जिला आपदा प्रबंन्द्धन प्राधिकरण किन्नौर द्वारा किया गया।
सहायक आयुक्त-उपायुक्त ने बताया कि त्वरित प्रतिक्रिया टीम ही सबसे पहले आपदा क्षेत्र में पहुंचकर अपनी सर्वश्रेष्ठ भूमिका निभाती रही है। आगामी मानसुन सत्र के दौरान आने वाली आपदा से निपटने के लिए तैयार रहने के लिए टीमों का प्रक्षिशित होना जरूरी है। ताकि ये टीमें किसी भी आपदा से निपटने के लिए सक्षम हो सके। कार्यशाला के स्त्रोत व्यक्ति गणेश दत ने किसी भी आपदा के दौरान लोगों को प्राथमिक उपचार, सी0 पी0 आर0, बैन्डेज स्वच्छता के बारे में प्रतिभागियों को विस्तृत जानकारी दी।
कार्यशाला के दूसरे दिन खोज व बचाव का प्रक्षिशण दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि किसी भी आपातकालीन स्थिति में किन्नौर जिला मुख्यालय पर आपदा प्रबंधन सहायता कक्ष पर 01786223151 से 55 या 1077 पर 24 घण्टे और सातों दिन कॉल कर सकते हैं। इस कार्यशाला में जिला आपदा प्रबंधन के समन्वयक शैलेन्द्र चौहान सहित त्वरित प्रतिक्रिया टीम पुलिस, नेहरू युवा केन्द्र, एन0 एस0 एस0, जे0 एस0 डब्ल्यू के प्रतिभागियों ने भाग लिया।

Share.

About Author

Leave A Reply