एमबीएम न्यूज़ / हमीरपुर

आंधी-तूफान से भरेड़ी विद्युत उपमंडल में हुए नुकसान को विभाग ने ठीक कर दिया है। उपभोक्ताओं को बिजली की सुविधा मुहैया करवाने के लिए विद्युत विभाग के कर्मचारी व स्वयं सहायक अभियंता चार दिनों से फील्ड में कार्य करके बिजली की बहाली में लगे हुए हैं। चार दिन पहले भोरंज में आए भयंकर आंधी-तूफान ने बिजली विभाग की व्यवस्थाओं पर पानी फेरी दिया है।

    इससे हनोह, डाडू, गरसाहड़, धिरड़ पंचायत में काफी नुकसान हुआ है। क्षेत्र में वृक्षों के टूटने की वजह से बिजली की तारें व खंभे बुरी तरह से टूट चुके हैं। चार दिनों ने बिजली विभाग के कर्मचारियों व अधिकारियों ने सुबह से लेकर शाम तक फील्ड में कार्य करके बिजली बहाली का प्रयास किया है। विद्युत भरेड़ी उपमंडल के तहत करीब 50 गांव आते हैं। तूफान की वजह से दस गांव बुरी तरह से प्रभावित हुए हैं।

   विद्युत विभाग ने एचटी लाइन के पांच नए खंभों को खोदकर दोबारा खड़े किए हैं। इसी तरह खुराहल गांव में बिजली के गर्जन से जले ट्रांसफार्मर की जगह नया ट्रांसफार्मर लगा दिया है। विभाग की मुस्तैदी से दस गांवों में बिजली की सप्लाई बहाल हो गई है। वहीं उपमंडल के डाडू गांव के ग्रामीण चार दिनों से अंधेरे में है। बिजली के खंभें व तारें अभी तक लटकी हुई है।

    साई गांव में आई बिजली ग्रामीणों के जले फ्रीज व पंखें ग्रामीण विश्नदास, निक्कू राम, ओम चंद, भानू कुमार, गोल्ड़ी सन्नी, जगत चंद, ईश्वर दास, सुशमा कुमारी, रवि कुमार, हेत राम, संत राम व अन्य ने बताया कि गांव के तीस घरों में चार दिनों के बाद बिजली आ गई है।
क्या कहते हैं सहायक अभियंता
भरेड़ी उपमंडल के सहायक अभियंता नरेश कौशल का कहना है कि विभाग ने रात-दिन एक करके बिजली की बहाली का कार्य किया है। नया ट्रांसफार्मर भेज दिया है और लगाया जा रहा है। सभी गांवों में बिजली की सप्लाई शाम तक बहाल कर दी जाएगी। उन्होंने कहा डाडू में समस्या बनी हुई है। वहां पर ग्रामीणों से सहयोग करने की अपील की गई है।

Share.

About Author

Leave A Reply