एमबीएम न्यूज़ / शिमला
हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय इकाई द्वारा वाणिज्य विभाग प्रवेश परीक्षा पत्र 2018 में हुई धांधली पर विरोध प्रदर्शन किया गया। विश्वविद्यालय रजिस्ट्रार के.के शर्मा का घेराव किया गया। बीते महीने 23 मई 2018 को वाणिज्य विभाग के द्वारा प्रवेश परीक्षा आयोजित की गई थी। जिसमें वाणिज्य विभाग के ही प्रोफेसर कुलवंत सिंह पठानिया के द्वारा लिखी हुई हेल्प बुक गेटवे ऑफ सक्सेस के महज 10 अभ्यास पत्र से लगभग 89 प्रशन बिना किसी बदलाव के प्रशन पत्रिका में रखे गए थे।

विरोध प्रदर्शन करते SFI के छात्र

एसएफआई द्वारा जब यह मुद्दा विश्वविद्यालय कुलपति के समक्ष लाया गया तब सीक्रेसी ब्रांच की मीटिंग में यह निकल कर सामने आया कि एमकॉम प्रवेश परीक्षा पत्र 2018 को प्रोफ़ेसर कुलवंत सिंह पठानिया के द्वारा ही सेट किया गया था।
एसएफआई के घेराव के दौरान रजिस्ट्रार के के शर्मा ने बताया कि इसकी जांच के लिए 3 सदस्य एक कमेटी का गठन किया गया है। यह कमेटी सोमवार तक अपनी रिपोर्ट विश्वविद्यालय कुलपति को सौपेंगी। एसएफआई ने मांग की है, एमकॉम प्रवेश परीक्षा पत्र 2018 को रद्द किया जाए। दोबारा से प्रवेश परीक्षा आयोजित की जाए एसएफआई ने कहा कि यदि सोमवार तक इस पर निर्णय नहीं लिया जाता है। एसएफआई के तमाम छात्र समुदाय के साथ मिलकर विश्वविद्यालय परिसर में उग्र आंदोलन करेंगे तथा सभी अधिकारियों का घेराव किया जाएगा।

Share.

About Author

Leave A Reply