अभिषेक मिश्रा/ बिलासपुर 
श्री नैना देवी जी विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले पटवार सर्किल स्याहुला में पिछले एक वर्ष से पटवारी अपने कार्यालय में नाम मात्र उपस्थित हो रहा है जिस कारण स्थानीय जनता को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। गौरतलब है की स्याहुला पटवार सर्किल में तैनात पटवारी के पास 5 अन्य पटवार सर्किल का जिम्मा है जिस वजह से वह स्याहुला पटवार सर्किल में नाम मात्र के लिए उपस्थित होता है।
जुखाला पंचायत की प्रधान अनीता ठाकुर, स्याहुला पंचायत की प्रधान पुष्पा ठाकुर, जुखाला पंचायत समिति सदस्य रूपेश भट्टी, जिला स्तरीय सायर मेला समिति के अध्यक्ष अमर सिंह ठाकुर इत्यादि जन प्रतिनिधियों ने बताया कि स्याहुला पटवार सर्किल में पटवारी पिछले एक वर्ष से नाम मात्र के लिए उपस्थित रहा है। जिसकी वजह से स्थानीय लोगो को अपने राजस्व संबधित कार्य करवाने काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।
उन्होंने बताया कि जब पटवारी उपस्थित नही होता तो उससे मोबाइल पर संपर्क करे तो वह अपना मोबाइल रिसीव नहीं करता है।  अगर कॉल रिसीव कर भी ले तो बहाना लगा देता है कि मेरी ड्यूटी दुसरे पटवार सर्किल में है। आजकल बच्चो को अपने सर्टिफिकेट बनाने पड़ रहे है और पटवारी के ना होने के कारण बच्चो के सर्टिफिकेट नही बन पा रहे है। बच्चो को बार बार पटवार सर्किल के चक्कर लगाने पड़ रहे है थक हार कर इन बच्चो और स्थानीय लोगो को जिला मुख्यालय की तरफ रुख करना पड़ रहा है। जिसकी वजह से आर्थिक और से की बर्बादी हो रही है।
उपरोक्त जन प्रतिनिधियों ने बताया कि यहाँ की जनता पिछले एक वर्ष से जमींन के इंतकाल और निशानदेही करवाने के लिए तरस रही है। लोगो ने कहा कि यहाँ पर तैनात पटवारी की 30 मई को रिटायर्मेंट थी जिसके बाद उन्हें आशा थी कि कोई नया पटवारी आएगा, जिसके बाद उनके राजस्व सम्बन्धी कार्य होंगे। परन्तु सरकार द्वारा इस पटवारी को एक वर्ष का सेवा विस्तार दे दिया गया है जिसकी वजह से लोगो की आस पर पानी फिर गया है।
अब दोबारा से एक वर्ष के लिए यहाँ की जनता को इस पटवारी की मनमानी झेलनी पड़ेगी। यहाँ के सभी लोगों ने जिला प्रशासन से मांग की है कि यहाँ पर तैनात पटवारी को तुरन्त प्रभाव से स्थानांतरित किया जाए और इसके स्थान पर अन्य पटवारी को यहाँ पर तैनात किया जाए।
जब इस संदर्भ में हमने एसडीएम प्रियंका वर्मा से संपर्क किया तो उन्होंने कहा कि आजकल पटवारी के रिक्त पद चल रहे है जिस वजह से लोगो को इस समस्या का सामना करना पड़ रहा है। जल्द ही नए पटवारी विभाग के पास आ जायेंगे जिसके बाद इस समस्या का समाधान हो जाएंगे।
Share.

About Author

Leave A Reply