एमबीएम न्यूज़/ हमीरपुर
   सिविल अस्पताल टौणी देवी में रोगियों व तीमारदारों को और बेहतर सुविधाएं प्रदान की जाएगी तथा इसके लिए संसाधन जुटाए जाएंगे। सिविल अस्पताल टौणी देवी की रोगी कल्याण समिति की बैठक बुधवार को अस्पताल परिसर में बीएमओ डा. आरके अग्रिहोत्री की अध्यक्षता में आयोजित की गई। जिसमें पिछले वर्ष अस्पताल के विकास पर खर्च किए गए आय-व्यय का विस्तार से ब्यौरा दिया गया। इसके तहत अस्पताल में रोगियों की सुविधा के लिए उपकरण खरीदे गए साथ ही डॉक्टरों के कक्ष में एसी व अन्य सुविधाएं प्रदान की गई।
   रोगी कल्याण समिति की बैठक में सिविल अस्पताल के दर्जे के अनुसार डॉक्टर व अन्य सुविधाएं मुहैया करवाने के लिए सरकार से आग्रह किया गया। जिससे ओर अधिक सुविधाएं लोगों को यहां पर मिल सके। अभी तक अस्पताल में पीएचसी के दर्जे के अनुसार ही डॉक्टर व अन्य पैरामेडिकल स्टाफ काम कर रहा है। अस्पताल में बीएमओ सहित अब डॉक्टरों के सभी पांच पद भर गए है। जिससे लोगों को बेहतर सुविधा मिल रही है। पहले डॉक्टरों की कमी के कारण लोगों को परेशानी हो रही थी। इसके साथ ही अस्पताल में सीवरेज की समस्या को हल करने की मांग की गई।
   जिससे अस्पताल के पास दुकानदारों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इसके साथ ही अस्पताल में रोगियों के बैठने के लिए उचित व्यवस्था करने पर चर्चा की गई। बीपीएल व अन्य रोगियों को अस्पताल में मुफत मिलने वाली दवाइयों का वितरण सही ढंग से करने का आग्रह किया गया। इस दौरान बीएमओ डा. अग्रिहोत्री ने कहा कि अस्पताल में बेहतर सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए विभाग प्रयासरत है। अस्तपाल में चिकित्सकों को सरकार के निर्देशानुसार जेनरिक दवाइयां लिखने के निर्देश दिए गए है। जनरेटर की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए सरकार से आग्रह किया गया है।
   उन्होंने बताया कि जिला मेडिकल कॉलेज के साथ सिविल अस्पताल टौणी देवी को भी जोड़ा गया है। जिससे यहां लोगों को और सुविधा मिल सकेगी। एमसीआई की टीम निरीक्षण के दौरान अस्पताल को हरी झंडी प्रदान कर चुकी है। उन्होंने बताया कि अस्तपाल के कई और सुधार भी किए जा रहे है। बैठक में खंड विकास अधिकारी यशपाल परमार, डा. सुनील वर्मा, डा. कविश खन्ना, सीडीपीओ, तहसील कल्याण अधिकारी, बीडीसी प्रेम लता ठाकुर, बारीं पंचायत की प्रधान बबीता चौहान, टपरे की प्रधान रजनीश चौहान, रविंद्र चौहान, कुलतार सिंह, दीपक सोनी व वंदना सहित कई अन्य लोग इस दौरान मौजूद रहे।
Share.

About Author

Leave A Reply