रिकांगपिओ/ जीता सिंह नेगी 
प्रदेश खादी ग्रामोद्योग उपाध्यक्ष पुरषोत्तम गुलेरिया ने रिकांगपिओ में पत्रकार वार्ता करते हुए कहा कि गांव में जो लोग अपने पारम्पारिक धंधे से जुडे है उन को उन्नत व समृद्व करने के लिए बोर्ड का गठन किया गया था। लेकिन विगत कुछ वर्षाे से बोर्ड की स्थिति दयनीय बनी हुई हैै। पूर्व सरकार ने बोर्ड के बजट में कटौती की वहीं बोर्ड कर्मचारियोंं के मुलभूत सुविधाओ व समस्याओ पर कोई ध्यान नही दिया गया। वर्तमान सरकार का उदेश्य बेराजगार युवाओ को बोर्ड के माध्यम से रोजगार देना है।
   साथ ही जिला में बोर्ड के जो ठप्प पडे छोटे उद्योग है उन को भी गति दी जाएगी। उन्होने कहा  कि पूर्व सरकार ने प्रदेश खादी ग्रामोद्योग के वार्षिक बजट में करीब 25 प्रतिशत की कटौती कि है। उन्होने कहा कि भाजपा सरकार के गठन के बाद खादी ग्रामोद्योग में बजट का प्रावधान किया गया है।
  इस अवसर पर उन के साथ पूर्व विधायक तेजवंत सिह नेगी, जिला भाजपा अध्यक्ष विनय नेगी, प्रदेश अनुसूचित जनजाति मोर्चा अध्यक्ष सुरत नेगी, जिप सदस्य विजय नेगी, महासचिव महेश्वर नेगी, नरेंद्र नेगी भी उपस्थित थे।
  गुलेरिया ने कहा कि भावानगर, सागंला, रिकांगपिओ मे लोगों से मिले है। लोगो में भारी उत्साह व लगन है। बोर्ड उन्हें सहायता व रोजगार उपलब्ध कराएगी। उन्होने कहा कि खादी ग्रामोद्योग बोर्ड लाभ कर कमाई करना नही है बल्कि लोगों को सुविधा प्रदान करना है। इसी तरह बोर्ड के कर्मचारियों को भी हर संभव सुविधाए देना है। साथ ही लोगो को जागरूक भी
Share.

About Author

Leave A Reply