धर्मशाला(एमबीएम न्यूज़ ): बदलते परिवेश के बावजूद मेलों की प्राचीन परम्पराओं एवं संस्कृति को संजोकर रखना हमारा कर्तव्य है ताकि आने वाली पीढ़ियां इन से रूबरू हो सकें, यह शहरी विकास आवास एवं नगर नियोजन मंत्री सरवीण चौधरी ने शनिवार देर सायं शाहपुर विधानसभा के अंतर्गत प्रेई पंचायत के कैरी छिंज मेले में उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए व्यक्त किए।

  कैरी छिंज मेले में उपस्थित सरवीण चौधरी

    उन्होंने कहा कि मेलों के माध्यम से न केवल आपसी भाईचारे की भावना को बल मिलता है, बल्कि हमारी प्राचीन सांस्कृतिक विरासत के संरक्षण में भी ये अहम भूमिका निभाते हैं। उन्होंने मेलों की इस प्राचीन परंपरा और सास्कृतिक धरोहर को संजोकर रखने का आह्वाहन किया है। उन्होंने कहा कि इस पंचायत में विभिन्न विकास कार्य उन्ही के द्वारा करवाए गये हैं और भविष्य में भी धन की कोई कमी नहीं आने दी जाएगी।

  उन्होंने छिंज अखाड़े के लिए तीन लाख रुपए तथा मेला कमेटी को 10 हजार रुपए देने की घोषणा की है। इससे पूर्व मेला कमेटी के प्रधान महेंद्र कुमार तथा ग्राम पंचायत प्रेई की प्रधान सरोज बाला ने मुख्यातिथि का स्वागत किया व मेले में आने पर उनका आभार व्यक्त किया।

  शहरी विकास मंत्री ने मेला कमेटी के ओर से बड़ी माली के विजेता हिमाचल केसरी सोनू को 31 हजार तथा उप विजेता भूपिंदर को 20 हजार रुपए देकर पुरस्कृत किया। इस अवसर पर दीपक अवस्थी, राजीव शर्मा, अश्वनी चौधरी, बुधि चंद शर्मा, पूर्व प्रधान सदूं रविंद्र चौधरी, संदीप चौधरी, राहुल रिहालिया के अलावा बड़ी संख्या में आसपास की पंचायतों के लोग उपस्थित रहे।

Share.

About Author

Leave A Reply