कुल्लू(एमबीएम न्यूज़ ): भाजपा सरकार में बतौर वन मंत्री और प्रदेश भाजपा अध्यक्ष के पद पर कार्य कर चुके पंडित खीमी राम शर्मा का टिकट बंजार से खतरे में हैं। बताया जा रहा है कि बंजार से भाजपा का टिकट युवा एवं तेज तर्रार नेता सुरेंद्र शौरी को दिए जाने पर मुहर लग गई है। जिसके चलते अब पूर्व मंत्री खीमी राम शर्मा भाजपा में टिकट की दौड़ से बाहर बताए जा रहे हैं।

      टिकट से नाम बाहर होने के बाद पंडित खीमी राम शर्मा ने बगावत करने की तैयारी शुरू कर दी है। उनके समर्थक उनके निवास स्थान पर आने शुरू हो गए हैं और सोमवार को उनके निवास पर समर्थकों के साथ बैठक हुई और इस बैठक में समर्थकों के साथ आगामी रणनीति तैयार की गई है। बताया जा रहा है कि समर्थकों ने पंडित खीमी राम शर्मा पर किसी भी सूरत में चुनाव लड़ने का दबाव बनाना शुरू कर दिया है। लिहाजा, ऐसे में खीमी राम शर्मा बंजार विस से आजाद रूप से चुनाव लड़ सकते हैं।

       फिलहाल खीमी राम शर्मा भाजपा द्वारा की जाने की टिकट की घोषणाओं का इंतजार कर रहे हैं। उसके बाद वे कभी भी आगामी रणनीति का एलान कर सकते हैं। राजनीतिक सूत्र बताते हैं कि खीमी राम शर्मा कई अन्य राजनीतिक दलों के संपर्क में भी हैं। हालांकि अभी तक किसी भी पार्टी में जाने को लेकर उन्होंने खुलासा नहीं किया है लेकिन वे कई पार्टियों के संपर्क में बने हुए हैं ऐसे में बंजार विधानसभा क्षेत्र में भाजपा के भीतर बगावत हो सकती है।

Share.

About Author

Leave A Reply