मंडी (वी.कुमार) : संसदीय क्षेत्र से भाजपा के सांसद राम स्वरूप शर्मा ने आरोप लगाया है कि राज्य सरकार ने उज्जवला योजना के तहत गलत सूचियां देकर इस योजना के प्रति अपनी उदासनीता का परिचय दिया है।

           सांसद का आरोप है कि राज्य सरकार द्वारा दी गई सूचियों में अधिकतर नाम ऐसे हैं जो या तो बीपीएल श्रेणी से बाहर हो चुके हैं या फिर स्वर्ग सिधार चुके हैं। यह बात उन्होंने प्रधानमंत्री उज्जवला योजना का विधिवत शुभारंभ करने के उपरांत पत्रकारों के साथ अनौपचारिक बातचीत में कही। राम स्वरूप शर्मा ने बताया कि देश भर में 5 करोड़ पात्र परिवारों को इस योजना के तहत गैस कुनैक्शन दिए जाने हैं। राज्य सरकार ने अभी तक सिर्फ 13 हजार लोगों की सूची ही भारत सरकार को दी है और इस सूची में अधिकतर नाम ऐसे हैं जो या तो गरीबी रेखा से बाहर हो चुके हैं या फिर दिवंग्त हो चुके हैं। उन्होंने बताया कि प्रदेश में अभी तक सूची से सिर्फ 7 हजार परिवारों को ही गैस कुनैक्शन बांटे जा सके हैं और बाकी पात्र परिवारों की जांच पड़ताल करके एक सप्ताह में गैस कुनैक्शन बांट दिए जाएंगे।

          उन्होंने लोगों को विश्वास दिलाया कि जैसे ही प्रदेश में भाजपा की सरकार बनेगी तो सभी पात्र परिवारों की जांच पड़ताल करके उन्हें प्रधानमंत्री की इस महत्वपूर्ण योजना का लाभ दिया जाएगा। राम स्वरूप शर्मा ने बताया कि सूचियों में गलत जानकारी मिलने के कारण इस योजना के पात्र परिवारों को गैस कुनैक्शन बांटने में देरी हुई लेकिन अब इस कार्य में तेजी लाई जा रही है। उन्होंने सभी गैस ऐजैंसियों से आहवान किया कि वे अपने क्षेत्र के अधीन आने वाले सभी पात्र परिवारों की जांच पड़ताल करें और उन्हें इस योजना का लाभ दिलाना सुनिश्चित करें। इस मौके पर उन्होंने दर्जनों पात्र परिवारों को उज्जवला योजना के तहत गैस कुनैक्शन बांटे। समारोह में भाजपा विधायक जय राम ठाकुर और जिलाध्यक्ष रणवीर सिंह सहित अन्य भाजपा नेता और अधिकारी भी मौजूद रहे।

Share.

About Author

Leave A Reply