नाहन (एमबीएम न्यूज़ ) : श्रम अधिकारी राजेन्द्र चौहान ने आज श्रमिक कल्याण बोर्ड के सभागार में असंगठित क्षेत्र में कार्य करने वाले 107 लाभार्थियों को 3 लाख 42 हजार रूपये के चैक वित्तरित किए। उन्होेने जानकारी देते हुए बताया कि चालू वित वर्ष में 6503 लाभार्थियों को प्रदेश भवन एवं निर्माण श्रमिक कल्याण बोर्ड की ओर से 1 करोड़ 82 लाख 55 हजार 170 रूपये की राशि वितरित की गई है ।
       उन्होंने बताया कि विवाह सहायता हेतु 311 लाभार्थियों को 83 लाख 2 हजार रूपये, पितृत्व सहायता हेतु 34 लाभार्थियों को 34 हजार रूपये, मातृत्व सहायता हेतु पांच लाभार्थियों को पचास हजार रूपये, साईकिल हेतु दो लाभार्थियों को 6 हजार रूपये, चिकित्सीय सहायता हेतु 19 लाभार्थियों को एक लाख आठ हजार 670 रूपये, शैक्षणिक गतिविधियों में सहायता हेतु 3448 लाभार्थियों को 6 करोड़ सात लाख 500 रूपये, केरोसीन स्टोव खरीदने हेतु 2039 लाभार्थियों को 30 लाख 58 हजार 500 रूपये इन्डक्शन के लिए 622 रूपये, मृत्यु या अन्तिम संस्कार के समय 23 लाभार्थियों को 6 लाख 25 हजार 500 रूपये की राशि वितरित की गई है।
        उन्होने कहा कि असंगठित क्षेत्र में कार्य करने वाले मजदूरों के कल्याणार्थ सरकार द्वारा प्रदेश भवन एवं अन्य निर्माण कामगार कल्याण बोर्ड का गठन किया गया है। जिसके माध्यम से असंगठित क्षेत्र में कार्य करने वाले मजदूरों के लिए अनेक कल्याणकारी योजनाए कार्यान्वित की जा रही है। उन्होेने कहा कि इस बोर्ड से लाभ लेने के लिए मजदूर की आयु 18 से 60 होनी चाहिए और श्रमिक द्वारा किसी भी निर्माण कार्य और मनरेगा में कम से कम 90 दिन कार्य किया हो, ऐसे श्रमिक का पंजीकरण होने के उपरांत श्रमिक कल्याण बोर्ड से लाभ लेने का पात्र माना जाएगा ।
       उन्होने बताया कि श्रमिक कल्याण बोर्ड के माध्यम से पंजीकृत श्रमिक को इलाज के लिए इनडोर 30 हजार और आऊटडोर दस हजार की सहायता राशि प्रदान की जाती है। इसके अतिरिक्त दो बच्चों के विवाह के लिए 25 -25 हजार, निर्धन श्रमिक महिला को वाशिंग मशीन, बच्चों की पढ़ाई के लिए विभिन्न कक्षाओं के लिए छात्रवृतियां, सोलर कुक्कर, इंडक्शन हीटर बर्तन, महिलाओं लाभार्थी को प्रसूति के दौरान दस हजार की सहायता इत्यादि अनेक कार्यक्रम कार्यान्वित किए जा रहे हैं।
       राजेन्द्र चौहान ने कहा कि श्रमिक कल्याण बोर्ड द्वारा असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले निर्धन लोगों के लिए चलाए जा रही अनेक कल्याणकारी योजनाओं का व्यापक प्रचार पंचायत स्तर तक किया जा रहा है और इस कार्यक्रम के तहत अधिक से अधिक पात्र मजदूरों का पंजीकरण मोके पर करवाया जा रहा है  ताकि निर्धन लोग श्रमिक कल्याण बोर्ड द्वारा दी जाने वाली विभिन्न सुविधाओं का लाभ उठा सके ।
Share.

About Author

Leave A Reply