मंडी (वी.कुमार) : अखिल भारतीय ग्रामीण डाक सेवक कर्मचारी संघ के आहवान पर जिला में भी बीते 6 दिनों से ग्रामीण डाक सेवक हड़ताल पर हैं। इसके कारण गांव में लोगों को भारी पेरशानी का सामना करना पड रहा है। मंडी ग्रामीण डाक सेवकों ने सोमवार को शहर में एक रैली निकाली और केन्द्र सरकार की नितियों के खिलाफ मोर्चा खोला।

             शहर के मुख्य डाकघर से सैंकडों की तादाद में ग्रामीण डाक सेवकों ने रैली निकाली जोकि पुराना बस अड्डा होते हुए हैड पोस्ट ऑफिस के बाहर आकर सम्पन्न हुई। रैली के दौरान मौजूद ग्रामीण डाक सेवकों ने केन्द्र सरकार के वित्त मंत्री अरूण जेटली के खिलाफ भी नारेबाजी की और जमकर प्रदर्शन भी किया। ग्रामीण डाक सेवकों ने सरकार को चेताया है कि वे तब तक हडताल पर बैठे रहेंगें जब तक उनकी मांगों पर गौर नहीं किया जाता।

         ग्रामीण डाक कर्मचारी संघ के मंडी मण्डल के प्रधान अनिल शर्मा ने इस मौके पर कहा कि उनकी प्रमुख मांग सातवें वेतन आयोग को जल्द लागू करने, कमलेश चन्द्रा समिति की सिफारिशों को लागू करना, ग्रामीण डाक सेवकों का कार्यसमय 8 घंटे करना, माननीय कैट व मद्रास पैंशन के फैसले को लागू करना आदि शामिल हैं।

         ग्रामीण डाक सेवकों ने चेताया है कि अगर केन्द्र सरकार समय रहते इन मांगों को पूरा नहीं करती है तो ग्रामीण डाक सेवकों की हड़ताल की वजह से आम ग्रामीण लोगों को होने वाली परेशानी के लिए सीधे तौर पर सरकार ही जिम्मेवार होगी।

Share.

About Author

Leave A Reply