सोलन(एमबीएम न्यूज):हिमाचल प्रदेश वालीबॉल एसोसिएशन के अध्यक्ष व कुटलैहड़ निर्वाचन क्षेत्र के भाजपा विधायक कंवर वीरेंद्र ने कहा कि प्रदेश में खेल प्रतिभाओं की कोई कमी नहीं है।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में पहली बार संघ खंड स्तर पर वालीबॉल इकाईयों का गठन करने जा रहा है,ताकि खेल प्रतिभाओं को अपना हुनर निखारने के लिए उचित मंच मिल सके। उन्होंने प्रदेश सरकार पर खेलों की अनदेखी करने का आरोप जड़ा है तथा वीरभद्र सरकार को खेल विरोधी बताया।

      हिमाचल प्रदेश वालीबॉल एसोसिएशन के प्रदेशाध्यक्ष एवं कुटलैहड विस क्षेत्र के विधायक कंवर वीरेंद्र सिंह सोलन में पत्रकारवार्ता को संबोधित कर रहे थे। कंवर वीरेंद्र सिंह ने कहा कि हिमाचल प्रदेश में खेल प्रतिभाओं की कोई कमी नहीं है। विशेषकर प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में बहुत से ऐसे खिलाड़ी हैं,जिन्हें अपने हुनर को तराशने के लिए मंच नहीं मिल पा रहा है। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश वालीबॉल संघ अब ऐसे खिलाडिय़ों को अपनी प्रतिभा में निखार लाने का सुनहरा मौका देने जा रहा है जो जीवन में खेल के क्षेत्र में आगे बढऩा चाहता है। कंवर ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र में छुपी खेल प्रतिभाओं के लिए संघ खंड स्तर पर इकाइयों का गठन कर रहा है,ताकि ज्यादा से ज्यादा खिलाडिय़ों को इसका लाभ मिल सके। उन्होंने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि हिमाचल प्रदेश से विभिन्न वर्गों में करीब 15 वालीबॉल खिलाड़ी इंडिया वॉलीबॉल टीम के कैंप में भाग ले रहे हैं। इस मौके पर कंवर वीरेंद्र सिंह ने प्रदेश सरकार पर भी तीखा प्रहार करते हुए कहा कि इस सरकार के एजेंडे में खेलों को स्थान नहीं दिया गया है। उन्होंने आरोप जड़ा है कि प्रदेश सरकार को विभिन्न खेलों से जुड़े खिलाडिय़ों की कोई चिंता नहीं है।

    उन्होंने प्रदेश सरकार पर खेल विरोध होने का आरोप जड़ा है। उन्होंने कहा कि सरकार खेलों के लिए समुचित बजट का प्रावधान करने में विफल रही है। इसके चलते प्रदेश में विभिन्न खेलों से जुड़े सैंकड़ों खिलाड़ी आगे नहीं बढ़ पा रहे हैं। उन्होंने आरोप जड़ा कि वर्तमान सरकार जिला स्तर पर खेल विभाग के पास मौजूद सुविधाओं का भी इस्तेमाल खिलाडिय़ों को नहीं करने दे रही है। उन्होंने कहा कि पूर्व धूमल सरकार के समय में प्रदेश के तीन जिलों शिमला,ऊना व धर्मशाला में सिंथेटिक टैरे फ्लैक्स बिछाए जाने थे तथा उन्हें खरीदकर भी रखा गया था,लेकिन वर्तमान सरकार ने आज तक बिछा नहीं पाई है। इससे स्पष्ट होता है कि प्रदेश सरकार की मंशा खेल व खिलाडिय़ों के प्रति कैसी है। कंवर ने एक प्रश्र के जवाब में कहा कि यदि आगामी विस चुनाव में प्रदेश में भाजपा की सरकार सत्ता में आती है तो प्रदेश के सभी जिलों में खिलाडिय़ों के लिए कम से कम 10 लाख रुपए की लागत से खेल मैदानों का निर्माण किया जाएगा।

     हिमाचल के जिन खिलाडिय़ों ने नेशनल तथा इंटरनेशनल में अपनी प्रतिभा का उम्दा प्रदर्शन कर प्रदेश का नाम रोशन किया है,उन्हें सरकार रोजगार नहीं दे सकी है। कंवर वीरेंद्र सिंह का सोलन पहुंचने वॉलीबाल संघ सोलन तथा पार्टी कार्यकत्र्ताओं ने फूल मालाओं के साथ भव्य स्वागत किया। इस मौके पर भाजयुमो जिलाध्यक्ष सोलन भरत साहनी, वॉलीबाल संघ सोलन इकाई के अध्यक्ष सुमित कश्यप,उपाध्यक्ष विनोद ठाकुर,राकेश शर्मा, सचिव धर्म सिंह तथा वॉलीबॉल के इंटरनेशनल कॉच सुभाष भी उपस्थित रहे।
बॉक्स….
सुमित कश्यप ने कार्यकारिणी में किया विस्तार-
इस मौके पर वॉलीबॉल संघ सोलन इकाई के अध्यक्ष सुमित कश्यप ने अपनी कार्यकारिणी का ऐलान भी किया। इसमें विनोद ठाकुर,गौरव व माया दत्त को उपाध्यक्ष, प्रदीप कपूर महासचिव,दिग्गविजय ठाकुर सचिव,मंगलेश कोषाध्यक्ष, इंद्र सिंह सह कोषाध्यक्ष, रोहित बाली व दिनेश कश्यप को प्रेस प्रवक्ता, सन्नी सिंह को पीआरओ व मोहित कश्यप को सलाहकार मनोनीत किया गया है। इसी तरह पवन ठाकुर, नितिन थापा, मधुर कश्यप, ऋषभ शर्मा, रूपेश,सौरव कंडारी,जुनैद सिद्दकी,आकाश,ईशान, साहिल व गितेश सहगल को कार्यकारिणी सदस्य बनाया गया है।

Share.

About Author

Leave A Reply